AgroStar
बी ए एस एफ
33 किसानों
स्‍टॉम्‍प -(पेंडीमेथालीन 30% ईसी (1000 मिली)
₹669₹713
कैसे इस्तेमाल करे

Free Home Deliveryरेटिंग्स

4.3
22
4
4
0
3

मुख्य बिंदु:

  • रासायनिक संरचना: पेंडीमेथालिन 30% ईसी
  • मात्रा बनाने की विधि: 1000 - 1200 मिली /एकड़
  • आवेदन की विधि: मिट्टी में छिड़काव !
  • स्पेक्ट्रम: "इचिनोक्लोआ कोलोनम, डाइनब्रा अरेबिका, डिजिटेरिया सेंगुइनैलिस, ब्राचियारिया सेंगुइनैलिस, ब्राचियारिया म्यूटिका, डैक्टिलोक्टेनियम एजिप्टीयम, पोर्टुलाका ओलेरैसिया, ऐमारैंथस विरिडिस, यूफोरबिया जेनिकुलता, क्लियोम विस्कोसा, एराग्रेटिस माइनर, कमेलिना कम्युनिस।
  • अनुकूलता: एकल रसायन के साथ ही छिड़काव किया जाना चाहिए !
  • आवेदन की आवृत्ति: अधिक जानकारी के लिए 'विशेषज्ञ सहायता की आवश्यकता लें, बटन पर क्लिक करें।
  • लागू फसलें: गेहूं,सोयाबीन, कपास, अरहर, मटर,चावल
  • अतिरिक्त विवरण: स्‍टॉम्‍प (पेंडिमथालिन 30% ईसी) पेंडिमिटलिन डिनिट्रोनिलिन वर्ग का एक हर्बिसाइड है जिसका उपयोग वार्षिक घास और कुछ चौड़ी घास के खरपतवारों को नियंत्रित करने के लिए पूर्व उद्भव और बाद के उद्भव अनुप्रयोगों में किया जाता है।
  • विशेष टिप्पणी: 1- खरपतवार नाशक दवाई के लेबल को ध्यानपूर्वक पढ़ें और लेबल पर दिए दिशा निर्देशों का पालन करें। 2- किसी भी खरपतवार नाशक दवाई को छिड़काव करने के लिए केवल फ्लैट फैन या कट नोजल का उपयोग करें। 3- छिड़काव करने से पहले और बाद में दवा छिड़कने वाली मशीन को साफ पानी से धोएं। 4- सिफारिश के अनुसार उचित मात्रा में दवाई का उपयोग करें। अधिक मात्रा में दवाई का छिड़काव करने से फसल में नुकसान हो सकता है और कम मात्रा में देने से कम परिणाम मिलता हैं। 5- खरपतवार नाशक दवाई को पहले 1 से 2 लीटर पानी में मिलाएं और फिर 120-200 लीटर पानी मिलाकर प्रति एकड़ की दर से छिड़काव करें। 6- खरपतवार नाशक दवाई का छिड़काव करने के लिए एक एकड़ में न्यूनतम 120 लीटर पानी का उपयोग करें। 7- तेज हवा और बारिश के समय खरपतवार नाशक दवाई का छिड़काव न करें। 8- फसल और खरपतवार उगने के बाद की स्थिति को देखकर खरपतवार नाशी दवाई को चुनें। 9- लेबल किए गए कंटेनरों में खरपतवार नाशक दवाई को स्टोर करें और खाद्य सामग्री तथा बच्चों से दूर रखें। 10 - किसी भी खरपतवार नाशक दवाई के छिड़काव से पहले मिट्टी में उचित नमी की मात्रा को सुनिश्चित करें।
  • फसल की अवस्था: फसल की बुवाई के तुरंत बाद और सिंचाई से पहले इसे मिट्टी पर परत के रूप में छिड़कना चाहिए !
  • महत्त्वपूर्ण सुचना: छिड़काव रिवर्स वॉकिंग द्वारा अर्थात पीछे की और चलते हुए किया जाना चाहिए और छिड़काव वाले खेत पर ना चले !
संबंधित उत्पाद
agrostar_promise