क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
कृषि वार्ताआउटलुक एग्रीकल्चर
गैर-बासमती चावल के निर्यात में आई कमी
बांग्लादेश के साथ ही अफ्रीकी देशों की आयात मांग में कमी आने से गैर-बासमती चावल के निर्यात में गिरावट आई है। वित्त वर्ष 2018-19 के पहले 11 महीनों अप्रैल से फरवरी के दौरान गैर-बासमती चावल के निर्यात में 16.55 फीसदी की गिरावट आकर कुल निर्यात 67.11 लाख टन का ही हुआ है।
कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पिछले साल बांग्लादेश के पास चावल का स्टॉक कम था, जिसकी वजह से गैर बासमती चावल का भारत से रिकार्ड निर्यात हुआ था, लेकिन चालू सीजन में बांग्लादेश के पास स्टॉक ज्यादा होने के कारण आयात मांग कम रही। पिछले वित्त वर्ष 2017-18 में अप्रैल से फरवरी के दौरान गैर-बासमती चावल का निर्यात 80.42 लाख टन का हुआ था, जबकि चालू वित्त वर्ष में इसका निर्यात 67.11 लाख टन ही हुआ है। वित्त वर्ष 2017-18 में गैर-बासमती चावल का कुल निर्यात 22,967.82 करोड़ रुपये का 86.48 लाख टन का हुआ था। स्रोत – आउटलुक एग्रीकल्चर, 12 अप्रैल 2019 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
7
0
संबंधित लेख