कृषि वार्ताकृषि जागरण
मोदी सरकार कृषि क्षेत्र की रफ्तार के लिए बना रही नई रणनीति, जानें कैसे बढ़ेगी किसानों की आमदनी!
कोरोना संकट के चलते एक बार फिर लॉकडाउन की अवधि बढ़ने के बाद प्रधानमंत्री की अगुवाई में एक बैठक हुई। इसमें कृषि क्षेत्र में रिफ़ॉर्म को लेकर चर्चा की गई, जिसमें एग्रीकल्चर मार्केटिंग, किसानों को संस्था गत कर्ज और कानूनी प्रावधानों के सहारे अन्य प्रतिबंधों को हटाने पर चर्चा की गई। देश की जीडीपी में कृषि क्षेत्र की 15 प्रतिशत हिस्सेदारी है, क्योंकि यहां की आधी आबादी की जीविका कृषि है। ऐसे में सरकार ने कोरोना और लॉकडाउन के बीच जोर दिया है कि फार्म सेक्टर चलता रहे। कई सेक्टर पर कोरोना का असर दिखा है, लेकिन चालू वित्त वर्ष में फार्म सेक्टर पर इसका अधिक प्रभाव नहीं पड़ा है।_x000D_ _x000D_ फसलों की मार्केटिंग का बदल सकता है तरीका_x000D_ एक आधिकारिक बयान में बताया गया है कि इस बैठक में फसलों की मार्केटिंग में रणनीति बदलने पर चर्चा की गई है। फसलों में बायो-टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान, उत्पादकता बढ़ाने समेत इनपुट कॉस्ट को कम करने पर विचार किया जा रहा है।_x000D_ _x000D_ कई अन्य रणनीतियों पर हुआ विचार_x000D_ • _x000D_ किसानों की आय दोगुनी करने के लिए एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने पर विचार किया गया है।_x000D_ • सरकार द्वारा चलाई जा रही पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत विशेष किसान क्रेडिट कार्ड को बेहतर बनाया जाएगा।_x000D_ • इसके साथ ही कृषि उत्पादों के अंर्तराज्यीय आवाजाही को बेहतर बनाया जाएगा।_x000D_ • नेशनल एग्रीकल्चर मार्केट (E-NAM) को 'प्लेटफॉर्म ऑफ प्लेटफॉर्म' में बदला जा सकता है।_x000D_ • युनिफ़ॉर्म स्टैट्यूटरी फ्रेम वर्क तैयार किया जाएगा, ताकि किसानी की नई तकनीक विकसित हो पाएं।_x000D_ • इसके अलावा मॉडल एग्रीकल्चर लैंड लीजिंग एक्ट पर चर्चा की गई. इससे छोटे किसानों के हित की रक्षा होगी।_x000D_ • फसल उत्पादन के बाद इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए प्राइवेट इन्वेस्टमेंट को बड़े स्तर पर लाया जा सकता है।_x000D_ • कृषि क्षेत्र की तकनीक पर जोर दिया गया है, क्योंकि किसानों के लिए नई तकनीक का इस्तेमाल करना जरूरी है।_x000D_ एफपीओ को और मजबूत किया जा सकता है, जिससे कृषि अर्थव्यवस्था को रफ्तार मिल पाए।_x000D_ • एग्रीकल्चर ट्रेड पर पारदर्शिता लाई जा सकती है, ताकि किसानों को ज्यादा लाभ मिल पाए।_x000D_ _x000D_ स्रोत:- कृषि जागरण, 3 मई 2020_x000D_ कृषि वार्ता में दी गई जानकारी उपयोगी लगे तो लाइक करें, और अपने अन्य किसान मित्रों को शेयर करें।_x000D_
362
0
संबंधित लेख