कृषि वार्ताकृषि जागरण
कपास निर्यात पर कोरोना वायरस का नहीं पड़ेगा असर
कपास की खेती करने वाले किसानों के लिए एक अच्छी खबर सामने आयी है। भारतीय कपास संघ यानी (सीएआई) की रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस के प्रकोप का कपास निर्यात पर खास असर नहीं पड़ेगा। सीएआई की मानें तो उम्मीद है कि चालू सत्र में कपास का कुल निर्यात लगभग 42 लाख गांठ रहेगा। सीएआई के अध्यक्ष अतुल गणात्रा ने कहा है कि कोरोना वायरस के प्रकोप से कपास का निर्यात ज्यादा प्रभावित नहीं होगा। क्योंकि पिछले साल यानी 2019 में कपास का
ज्यादा निर्यात नहीं किया गया था। पिछले साल की बात करें तो चीन को केवल 8 लाख गांठ कपास ही निर्यात किया गया था।_x000D_ वहीं फरवरी 2020 के अंत तक संगठन ने लगभग 6 लाख गांठ का निर्यात किया है। अध्यक्ष का कहना है कि बांग्लादेश के साथ कई और बाजारों से भी कपास की मांग बढ़ी है। इसी तरह वियतनाम और इंडोनेशिया को भी 5-5 लाख गांठ कपास का निर्यात किया जा चुका है। चालू सत्र में संगठन के पास अभी 6 महीने का समय और है। वह बड़ी ही आसानी से कपास निर्यात का अपना निर्धारित लक्ष्य पूरा कर सकेगा।_x000D_ स्रोत – कृषि जागरण, 13 मार्च 2020_x000D_ इस उपयोगी जानकारी को लाइक करें और अपने किसान मित्रों के साथ शेयर करें।_x000D_ _x000D_
46
0
संबंधित लेख