क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
कृषि वार्ताकृषक जगत
किसानों को आत्मनिर्भर बनाने में सहकारिता निभाएं सेतु की भूमिका!
👉🏻 नई दिल्ली, केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सहकारप्रज्ञाका अनावरण किया। सहकार प्रज्ञा के 45 नए ट्रेनिंग माड्यूल्ससे राष्‍ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी) द्वारा लक्ष्मणराव इनामदार राष्ट्रीय सहकारिता अनुसंधान एवं विकास अकादमी(लिनाक) के साथ देश के ग्रामीण क्षेत्रों की प्राथमिक सहकारी समितियों में प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस अवसर पर श्री तोमर नेआह्वान किया कि गांव-गरीब-किसानों को आत्मनिर्भर बनाने में सहकारिता का क्षेत्र सेतु की भूमिका निभाएं। केंद्रीय मंत्रीश्री तोमर ने कहा कि सहकारिता, देश की वर्तमान आवश्यकता के अनुसार बहुत ही महत्वपूर्ण क्षेत्र है, जिसकी व्यापकता है। देश को सशक्त बनाने के लिएसहकारिता का भाव समाज में रहना अत्यंत आवश्यक है। समाज में सहकार का भाव होने पर सहकारिता अपने-आप ही मजबूत हो जाती है। प्रशिक्षण कार्यक्रम की जरूरत इसीलिए पड़ती है, जिससे कि समाज में सहकार का भाव प्रगाढ़ हो सकें। हमारी कोशिश होना चाहिए कि एक साल में कम से कम पांच हजार लोगों को सहकारिता का प्रशिक्षण दिया जाए। 👉🏻 श्री तोमर ने कहा कि देश में 2.53 लाख से अधिक ग्राम पंचायतें है, जिनके माध्यम से भारत सरकार ने गांवों में मौलिक सुविधाएं उपलब्ध कराने का काम किया है। हर घर में शौचालय, बिजली-पानी, रसोई गैस इत्यादि सुलभ हो, यह सुनिश्चित करने का काम सरकार द्वारा किया जा रहा है। कृषि क्षेत्र की गैप्स भरी जा रही है। देश में 86 प्रतिशत छोटे किसान है, जो खुद खेती में निवेश नहीं कर सकते है, उनके लिए गांव-गांव तक कोल्ड स्टोरेज जैसी सुविधाएं विकसित करने पर सरकार ध्यान दे रही है, ताकि किसान अपनीउपज कम दाम पर बेचने को विवश नहीं हो। सहकारिता रूपी ब्रिजको माध्यम बनाकर किसान जीवन को सार्थक बना सकता है, अपना जीवन स्तर ऊंचा उठा सकता है। यह प्लेटफार्म बहुत ही महत्वपूर्ण है। नेशनल फेडरेशन ऑफ स्टेट कोआपरेटिव बैंक के अध्यक्षश्री दिलीप संघानी वएनसीडीसी के प्रबंध निदेशकश्री संदीप कुमार नायकने भी विचार रखें। एनसीडीसी के कार्यकारी निदेशक डा. के.टी. चेनेशप्पा,यूएन के भारत प्रमुख श्री टोमियो शिचिरी, लिनाक के मुख्य निदेशक लेफ्टिनेंट कर्नल बिक्रमजीत सिंहव सहकारी संस्थाओं के पदाधिकारीकार्यक्रम में शामिल हुए। स्रोत:- कृषक जगत, 26 Nov 2020, 👉🏻 प्रिय किसान भाइयों यदि आपको दी गयी जानकारी उपयोगी लगी तो इसे लाइक👍करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद।
19
2
संबंधित लेख