क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
पशुपालनकृषि जागरण
गर्मियों के दिनों में पशुओं के हांफने के गुणांक से जानें पशुओं की बीमारी!
गर्मियों के मौसम में पशुओं के हांफने के गुणांक से उनके अंदर की गर्मी और तनाव का पता लगया जा सकता है। ध्यान रहे कि किसी भी पशु का गुणांक 2 से अधिक नहीं होना चाहिए। यदि इससे ज्यादा है गुणांक, तो समझ जाइए कि आपका पशु बीमार है या होने वाला है।_x000D_ पशुओं के हांफने का गुणांक क्या है?_x000D_ हांफने के गुणांक से पशुओं के ऐसे लक्षण का पता चल जाता है कि पशु कितना स्वस्थ है या यूं कहें कि पशुओं की स्वास्थ्य स्थिति के मापन की इकाई को पशु के हांफने का गुणांक कहा जा सकता है। गर्मी के मौसम में पशु अधिक हांफता है तो यह उसके स्वस्थ होने का लक्षण नहीं है।_x000D_ कैसे जानें पशुओं के गुणांक की स्थिति?_x000D_ यदि पशुओं को साँस लेने की स्थित प्रति मिनट 40 से कम है तो समझ जाइए कि आपका पशु स्वस्थ है। जब गुणांक 1 होगा तो पशु प्रति मिनट 40 से 70 बार हल्की ( धीमी) सांस लेगा, इस स्थिति में पशु के मुंह से लार गिरती है। यदि गुणांक 2 होगा तो पशु प्रति मिनट 70 से 120 बार हल्की सांस लेगा, पशु के मुंह से लार गिरती रहेगी और मुंह बंद रहेगा। गुणांक 2.5 की स्थिति में 70 से 120 बार मुहं खोलकर सांस लेगा और लार गिरती रहेगी। पशु गुणांक 3 के समय 120–160 मुंह खोलने के साथ सिर ऊपर करके लार गिराते हुए सांस लेगा। जब गुणांक 3.5 होगा तो पशु जीभ निकालकर सांस लेगा शेष स्थिति गुणांक 3 वाली होगी। गुणांक 4 के समय 160 से अधिक बार सांस के साथ मुंह खुला, जीभ लंबे समय तक अत्यधिक लार के साथ पूरी बाहर निकली हुई होगी। _x000D_ स्रोत:- कृषि जागरण _x000D_ इस लेख में दी गई जानकारी यदि आपको उपयोगी लगे तो लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद।_x000D_
221
3
संबंधित लेख