क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
कृषि वार्ताकिसान समाधान
29 हजार किसान समर्थन मूल्य पर मूंग एवं मूंगफली बेचने के लिए करवा सकेंगे पंजीयन!
👉🏻 खरीफ फसल की खरीदी सभी राज्यों में चल रही है किसान अपनी उपज बेचने के लिए खरीदी केन्द्रों पर ले जा रहें हैं परन्तु कुछ किसान ऐसे भी हैं जिनका पंजीकरण अभी तक नहीं हुआ है ऐसे सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर अपने फसल को नहीं बेच पा रहे हैं। ऐसे किसानों के लिए अच्छी खबर है। राजस्थान सरकार ने किसानों को मूंग तथा मूंगफली फसल समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए एक बार फिर पंजीयन का मौका दे रही है। 29 हजार से अधिक किसान मूंग एवं मूंगफली की खरीद के लिए करवा सकेंगे पंजीयन 👉🏻 सहकारिता मंत्री श्री उदयलाल आंजना ने सोमवार को बताया कि राज्य में समर्थन मूल्य पर मूंग एवं मूंगफली की खरीद के लिए पंजीयन की सीमा को 10 प्रतिशत बढ़ाया गया है। मूंगफली के सभी 266 एवं मूंग के 365 खरीद केन्द्रों पर पंजीयन सीमा को समान रूप से बढ़ाया है। इस निर्णय से प्रदेश के 29 हजार 250 किसानों को लाभ मिलेगा। समर्थन मूल्य पर मूंग एवं मूंगफली की खरीद 👉🏻 पंजीयन सीमा बढ़ाने से मूंग के 14 हजार 300 किसान और मूंगफली के 14 हजार 950 किसान और लाभान्वित होंगे। समर्थन मूल्य पर चल रही खरीद से अब तक 17 हजार 221 किसानों से 213.81 करोड़ रूपये की खरीद की जा चुकी है। किसानों को 49.42 करोड़ रूपये का भुगतान भी किया जा चुका है। मूंगफली की 30 हजार 638 मीट्रिक टन एवं मूंग की 7 हजार 253 मीट्रिक टन की खरीद की गई है। 👉🏻 सहकारिता मंत्री ने बताया कि मूंग के लिए 53 हजार 828 एवं मूंगफली के लिए 77 हजार 274 किसानों ने समर्थन मूल्य पर उपज बेचान के लिए पंजीयन कराया है। दलहन एवं तिलहन की खरीद क्रय केन्द्रों पर भारत सरकार द्वारा निर्घारित मापदण्डों के अनुरूप की जा रही है। किसानों से क्रय किए गए जिन्स का भुगतान उनके खातों में ऑनलाइन हो रहा है। वर्ष 2020-21 मूंग एवं मूंगफली का समर्थन मूल्य 👉🏻 मूंग का समर्थन मूल्य 7196 रुपये प्रति क्विंटल। मूंगफली का समर्थन मूल्य 5275 रुपये प्रति क्विंटल। समर्थन मूल्य पर पंजीकरण हेतु समस्या समाधान हेतु टोल फ्री नम्बर 👉🏻 किसानों की समस्या के समाधान हेतु राजफैड स्तर पर ट्रोल फ्री हेल्पलाईन नंबर 1800-180-6001 पर प्रात: 9 से 7 बजे तक किसान अपनी समस्याओं को हेल्पलाईन नंबर पर दर्ज करा सकते हैं। अथवा अपनी शिकायत/समस्या को लिखित में राजफैड मुख्यालय में स्थापित काल सेंटर पर rajfed.kisansamadhan@gmail.com पर मेल भेज सकते हैं। 👉🏻 खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 क्लिक करें। स्रोत:- किसान समाधान, 👉🏻 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
19
6
संबंधित लेख