योजना और सब्सिडीTV9
127.91 लाख किसानों के खाते में पहुंचे 1.64 लाख करोड़ रुपये!
💵चालू खरीफ सीजन 2020-21 में धान की खरीद राज्यों में सुचारु रूप से जारी है. 12 जुलाई 2021 तक 867.06 एलएमटी धान (खरीफ फसल 707.59 एलएमटी और रबी फसल 159.47 एलएमटी शामिल) की खरीद की जा चुकी है और यह खरीद पिछले वर्ष की इसी खरीद 758.54 एलएमटी से अधिक हो गई है! 👉 मौजूदा रबी के मार्केटिंग सीजन (आरएमएस) 2021-22, अधिकांश गेहूं खरीद वाले राज्यों में समाप्त हो गया है और अब तक (12 जुलाई 2021 तक) 433.32 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई है (जो अब तक का उच्चतम स्तर है, क्योंकि यह पिछले उच्च स्तर 389.92 लाख मीट्रिक टन आरएमएस 2020-21 से अधिक हो गया है) और यह पिछले वर्ष 387.53 लाख मीट्रिक टन की खरीद के मुकाबले अधिक है. 85,581.02 करोड़ रुपये के एमएसपी मूल्य के साथ चल रहे आरएमएस खरीद कार्यों से लगभग 49.16 लाख किसान पहले ही लाभान्वित हो चुके हैं! 127.91 लाख किसानों को हुआ फायदा- 👉 मौजूदा खरीफ के विपणन सीजन के दौरान जारी खरीद कार्यों से लगभग 127.91 लाख किसान पहले ही लाभान्वित हो चुके हैं, जिनका एमएसपी मूल्य 1,63,700.91 करोड़ रुपये है! इन राज्यों के किसानों को हुआ फायदा- 👉 इसके अलावा, राज्यों के प्रस्ताव के आधार पर, मूल्य समर्थन योजना (पीएसएस) के तहत तमिलनाडु, कर्नाटक, महाराष्ट्र, तेलंगाना, गुजरात, हरियाणा, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, ओडिशा, राजस्थान और आंध्र प्रदेश राज्यों के लिए खरीफ विपणन सीजन 2020-21 और रबी विपणन सीजन 2021 और ग्रीष्म सत्र-2021 की 108.42 एलएमटी दलहन और तिलहन की खरीद के लिए मंजूरी दी गई थी! स्त्रोत:- tv9 👉 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
5
2
अन्य लेख