पीएम मत्स्य संपदा योजना !
कृषि वार्ताAgrostar
पीएम मत्स्य संपदा योजना !
👉मछली पालन पर सरकार दे रही है 10 लाख के लोन पर 6 लाख की सब्सिडी, जाने मछली पालन की सम्पूर्ण जानकारी:- पीएम मत्स्य संपदा योजना 2022: जाने कैसे आवेदन केंद्र और राज्य सरकारें भी अपने अपने स्तर पर अनेक सरकारी योजनाओं के जरिये किसानों को मछली पालन की शुरुआत करने के लिए सब्सिडी के आर्थिक मदद भी प्रदान करती है. 👉 ग्रामीण क्षेत्रों में मछली पालन आमदनी का एक बढ़िया जरिया है. बड़ी संख्या में ग्रामीण भारत के किसान इस व्यवसाय की तरफ रुख कर कर रहे हैं. किसान मछली पालन करके आज अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं. मछली पालन में नई-नई तकनीक आ चुकी है. इन तकनीकों से कम जगह, कम पैसा और कम मेहनत में ही अच्छा मुनाफा मिल जाता है. इन्हीं तकनीकों में मछली पालन की बायोफ्लॉक तकनीक किसानों के लिए काफी फायदेमंद है. 👉पीएम मत्स्य संपदा योजना 2022-23:- केंद्र की सरकार द्वारा किसानों की आय बढ़ाने के लिए सितंबर 2020 “पीएम मत्स्य संपदा योजना की शुरुआत की गई थी. जोकि मछली पालन के क्षेत्र में अब तक की चलाई जाने वाली योजनाओं में सबसे बड़ी योजना है. इस स्कीम के तहत किसानों को मछली पालन के लिए ऋण और नि:शुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है. यदि आप भी केंद्र सरकार द्वारा संचालित प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का लाभ उठाना चाहते है और इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए ऋण लेना चाहते है, तो इसके लिए आपको सबसे पहले अपने क्षेत्र के मत्स्य पालन विभाग में संपर्क करना होगा. 👉योजना पर कितनी सब्सिडी मिलती है? इस योजना के तहत अनुसूचित जाति और महिलाओं को 60 प्रतिशत तक सब्सिडी, वहीं, अन्य सभी को 40% तक की सब्सिडी या 2 लाख तक की छूट दी जा रही है. साथ किसानों और मछुआरों के लिए लोन लेने की भी सुविधा दी गई है. 👉कहां करें आवेदन:- केंद्र सरकार की तरफ से इस योजना को राज्य सरकार के माध्यम से निर्देशित किया जा रहा है. कोई भी इच्छुक व्यक्ति अपने राज्य के मत्स्य पालन विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकता है. प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदन फॉर्म अप्लाई करने का तरीका बेहद आसान है. अगर आप भी इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो अधिकारिक वेबसाइट https://dof.gov.in/pmmsy पर विजिट कर आवेदन कर सकते हैं. 👉मछली पालन पर कितना लोन मिल सकता है? मत्स्य विशेषज्ञों के मुताबिक करीब 1 हेक्टेयर तालाब के निर्माण में करीब 5 लाख रुपये खर्च होता हैं. जिसमें से कुल राशि का 50 प्रतिशत केंद्र सरकार, 25 प्रतिशत राज्य सरकार और शेष 25 प्रतिशत मछली पालन कर्ता को देना होता है. प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत आपको मछली पालन के लिए लोन मिल सकता है. 👉जरूरी डॉक्यूमेंट:- किसान या किसान समूहों की तरफ से प्रमाणित पासपोर्ट साइज फोटो किसानों का आधार कार्ड किसानों का पैन कार्ड किसान का भूस्वामी पत्र खेत का लीज इकरारनामा किसान का जाति प्रमाण पत्र समूह में काम करने के लिये सहमति पत्र उद्यमी लाभार्थियों का प्रमाणित निबंधन प्रमाण पत्र. पिछले तीन साल का आयकर रिटर्न और जीएसटी आदि 👉स्त्रोत:-Agrostar किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
13
3
अन्य लेख