agrostar logo
सभी फसलें
कृषि ज्ञान
कृषि चर्चा
अॅग्री दुकान
किसानों को सब्सिडी पर दिए जाएँगे पाइप लाइन सेट, पम्प सेट एवं स्प्रिंकलर सेट!
कृषी वार्ताAgrostar
किसानों को सब्सिडी पर दिए जाएँगे पाइप लाइन सेट, पम्प सेट एवं स्प्रिंकलर सेट!
👉🏻इस वित्त वर्ष में विभिन्न योजनाओं के तहत आवंटित बजट के तहत किसानों को सब्सिडी पर विभिन्न प्रकार के कृषि सिंचाई यंत्र अनुदान पर उपलब्ध कराने के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने किसानों से आवेदन माँगे थे। जिसके तहत राज्य के इच्छुक किसान आवेदन कर चुके हैं। मध्यप्रदेश के कृषि विभाग द्वारा ज़िलेवार किसानों का चयन लॉटरी के माध्यम से कर लिया गया है, जिन किसानों ने इन योजनाओं के तहत आवेदन किया था। 👉🏻मध्य प्रदेश कृषि विभाग द्वारा वर्ष 2022-2023 हेतु राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन योजना के विभिन्न घटकों के तहत ज़िलेवार सिंचाई यंत्रों के लिए लक्ष्य जारी किए गए थे। इन लक्ष्यों के विरुद्ध सिंचाई उपकरणों हेतु दिनांक 27 जुलाई 2022 से 4 अगस्त 2022 तक पोर्टल पर किसानों से आवेदन माँगे गए थे। प्राप्त आवेदनों में से लक्ष्यों के विरूद्ध लॉटरी ऑनलाइन सम्पादित 05 अगस्त 2022 को कर दी गई है, आवेदक किसान इस लिस्ट में अपना नाम देखकर आगे की कार्यवाही कर सकते हैं। 👉🏻इन सिंचाई यंत्रों के लिए माँगे गए थे आवेदन मध्य प्रदेश कृषि विभाग द्वारा राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन योजना के विभिन्न घटकों के तहत निम्न सिंचाई उपकरणों के लिए आवेदन माँगे थे:- ◾स्प्रिंकलर सेट ◾पाईप लाईन सेट ◾पम्प सेट (डीजल/विद्युत) ◾रेनगन सिस्टम सिंचाई यंत्रों पर कितना अनुदान दिया जाएगा? 👉🏻राज्य में किसानों को विभिन्न योजनाओं के तहत अलग-अलग वर्ग के किसानों को अलग-अलग सब्सिडी दिए जाने का प्रावधान है। जहां सरकार द्वारा किसानों स्प्रिंक्लर सेट एवं रेनगन पर अधिकतम 55 प्रतिशत तक की सब्सिडी एवं अन्य सिंचाई उपकरणों पर 50 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जाती है। किसान जो भी कृषि सिंचाई यंत्र लेना चाहते हैं वह कृषि यंत्र अनुदान पोर्टल पर उपलब्ध सब्सिडी कैलकुलेटर पर सिंचाई यंत्र की लागत के अनुसार उनको मिलने वाली सब्सिडी की जानकारी देख सकते हैं। यह किसान ले सकेंगे सब्सिडी पर सिंचाई यंत्र- 👉🏻अलग-अलग ज़िले एवं किसान वर्ग के अनुसार यह कम्प्यूटरीकृत लॉटरी निकाली गई है। इस लिस्ट में लक्ष्य से अधिक किसानों का नाम है जिसमें यदि चयनित किसान यंत्र नहीं लेते हैं तो वह यंत्र लेने का मौका अन्य किसानों को दिया जायेगा। उदहारण के लिए यदि किसी जिले में 10 किसानों को पम्प सेट Alloted किया गया है तो उसके अलावा 15 अन्य किसान हैं जो वेटिंग में है अर्थात इन किसानों को पम्प सेट एवं अन्य सिंचाई यंत्र तब ही दिया जायेगा जब ऊपर के चयनित किसान किसी कारण से सिंचाई यंत्र नहीं लेते हैं। स्त्रोत:- Agrostar, 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
26
4
अन्य लेख