नई खेती नया किसानTV9
सहजन की खेती से लाखों की कमाई!
👨🏻‍🌾प्रिय किसान भाइयों सहजन की खेती अभी हर किसान की पसंद बन गयी हैं क्योंकि ये कम लागत में किसानों को अच्छी कमाई दे रहा है, इसकी खेती बंजर पड़ी जमीन पर भी की जा सकती है! 👉सहजन सामान्यतया 25-30 डिग्री सेल्सियस के औसत तापमान पर सहजन के पौधा का हरा-भरा व काफी फैलने वाला विकास होता है यह ठंड को भी सहता है! लाखों कमाने का मौका- 👉साल में दो बार फल देने वाले सहजन की किस्मों को साल में दो बार फली तोड़ते हैं. फरवरी-मार्च और सितम्बर-अक्टूबर में होती है, प्रत्येक पौधे से लगभग 200-400 (40-50 किलोग्राम) सहजन सालभर मिलता है, सहजन की तुड़ाई बाजार और मात्रा के अनुसार 1-2 माह तक चलता है, सहजन के फल में रेशा आने से पहले ही तुड़ाई करने से बाजार में मांग बनी रहती है और इससे लाभ भी ज्यादा मिलता है! बारिश और बाढ़ से भी नहीं होता नुकसान- 👉कम या ज्यादा वर्षा से पौधे को कोई नुकसान नहीं होता है यह विभिन्न पारिस्थितिक अवस्थाओं में उगने वाला पौधा है. इसकी खेती सभी प्रकार की मिट्टी में सहजन की खेती की जा सकती है. बेकार, बंजर और कम उर्वरा भूमि में भी इसकी खेती की जा सकती है! पौधे लगाने की विधि- 👉सहजन के पौध की रोपनी गड्ढा बनाकर किया जाता है. खेत को अच्छी तरह खरपतवार मुक्त करने के बाद 2.5 x 2.5 मीटर की दूरी पर 45 x 45 x 45 सेंमी. आकार का गड्ढा बनाते हैं! 👉गड्ढे के उपरी मिट्टी के साथ 10 किलोग्राम सड़ा हुआ गोबर का खाद मिलाकर गड्ढे को भर देते हैं. इससे खेत पौध के रोपनी के लिए तैयार हो जाता है! जून से सितंबर में लगाएं पौधा- 👉एक हेक्टेयर में खेती करने के लिए 500 से 700 ग्राम बीज पर्याप्त होता है. बीज को सीधे तैयार गड्ढों में या फिर पॉलीथीन बैग में तैयार कर गड्ढों में लगाया जा सकता है. 👉पॉलीथीन बैग में पौध एक महीना में लगाने योग्य तैयार हो जाता है. एक महीने के तैयार पौध को पहले से तैयार किए गये गड्ढों में जून से लेकर सितम्बर तक रोपनी किया जा सकता है. 👉पौधा जब लगभग 75 सेंमी का हो जाये तो पौध के ऊपरी भाग को तोड़ देना चाहिए , इससे बगल से शाखाओं को निकलने में आसानी होगी.! स्त्रोत:-TV9 👉 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
15
0
संबंधित लेख