AgroStar
सम्मान निधि के नियमों में हुआ बड़ा बदलाव!
कृषि वार्ताkrishi jagran
सम्मान निधि के नियमों में हुआ बड़ा बदलाव!
👉🏻प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी योजना है. जिसके तहत देश के किसानों को आर्थिक सहायता राशी प्रदान की जाती है। 👉🏻लेकिन कुछ लाभार्थी अधिक लाभ पाने की लालच में योजन का इस्तेमाल फर्जी तरीकों से करते हैं. ऐसे में इन फर्जीवाड़ा को रोकने के लिए सरकार ने पीएम सम्मान निधि की स्कीम में कुछ बदलाव किये हैं. तो आइये जानते हैं क्या है वो बदलाव। दस्तावोज़ में राशन कार्ड किया अनिवार्य:- 👉🏻पीएम सम्मान निधि योजना का लाभ उठाने वाले देश के करोड़ों किसानों के लिए यह खबर बहुत ख़ास है. खबर यह है कि कई अपात्र लोग पीएम किसान योजना का फायदा ले रहे हैं. ऐसे में इस पर अंकुश लगाने के लिए सरकार ने योजना के नियमों में बदलाव किया है. जिसमें राशन कार्ड को जरुरी दस्तावेज़ के रूप में अनिवार्य कर दिया है. जी हाँ अब जो भी लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उनको अपने दस्तावेज़ में राशन कार्ड भी देना होगा. यानी अब आप बिना राशन कार्ड के इस योजना का फायदा नहीं उठा पाएंगे। पोर्टल पर जमा करनी होगी डिटेल्स:- 👉🏻अब जब आप इस योजना का लाभ उठाने के लिए लेने पोर्टल पर आवेदन करेंगे तो आपको वहां पर आपको राशन कार्ड की डिटेल्स भी देनी होगी. इसके बाद ही आप आगे का प्रक्रिया को पूरा कर पाएँगे. बिना राशन कार्ड के आपको ये पैसा नहीं मिलेगा. इसके साथ ही आपको राशन कार्ड को पीडीएफ फॉर्म में भी अपलोड करना होगा। इन लोगों को नहीं मिलेगा योजना का लाभ:- 👉🏻केंद्र या राज्य सरकार में काम करने एवं 10 हजार से अधिक पेंशन पाने वाले किसानों को लाभ नहीं मिलेगा. पिछले वित्तीय वर्ष में इनकम टैक्स का भुगतान करने वाले किसानों को भी इसके लाभ से वंचित रखा गया है. डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, वकील, आर्किटेक्ट, वर्तमान या पूर्व मंत्री, मेयर, जिला पंचायत अध्यक्ष, विधायक, एमएलसी, लोकसभा और राज्यसभा सदस्यों को इस स्कीम से बाहर रखा गया है। स्रोत:- Krishi Jagran, 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
26
2
अन्य लेख