AgroStar
संगीत है पौधों की वृद्धि के लिए एक खास उपहार!
अतुल्य भारतAgrostar
संगीत है पौधों की वृद्धि के लिए एक खास उपहार!
👉संगीत में अद्भुत शक्ति होती है. यह उदास दिलों में उमंग का संचार करता है. सामान्यतः हर इंसान को किस ना किसी तरह का संगीत पसंद होता है, जिससे वह खुशी व गम में सुनना पसंद करता है. संगीत से तनाव कम होता है और काम करने की ऊर्जा मिलती है। 👉पौधों के लिए प्रेरक और ऊर्जादायक है संगीत:- क्या आप जानते हैं कि संगीत सिर्फ इंसानों को ही नहीं पेड़ पौधों को भी खुशी देता है. खेतों में पानी और खाद देने के अलावा यदि फसलों को संगीत सुनाया जाए, तो पैदावार ज्यादा ली जा सकती है। 👉फसलों पर संगीत के प्रभाव के सकारात्मक प्रयोग:- आपको शायद अजीब लगे कि हमारे देश में ऐसे प्रयोग किए जा रहे हैं, जिसमें बताया जा रहा है कि संगीत में निहित असीम शक्ति और माधुर्य का प्रयोग करके किसान भाई ना सिर्फ अपना उत्पादन बढ़ा सकते हैं, बल्कि उत्पादित वस्तुओं की गुणवत्ता भी बढ़ा सकते हैं। 👉पशुओं पर भी होता है सकारात्मक प्रभाव:- पौधों को ही नहीं गायों व अन्य दुधारू पशुओं को भी संगीत सुनाकर ज्यादा दूध भी लिया जा सकता है। 👉म्यूजिक बढ़ा सकता है पैदावार : आकाश चौरसिया के प्रयोग रहे हैं सफल:- खेतों में पानी और खाद देने के इतर फसलों को म्यूजिक सुनाकर ज्यादा पैदावार भी ली जा सकती है. मध्य प्रदेश के युवा कृषि वैज्ञानिक आकाश चौरसिया जो मल्टी लेयर फार्मिंग के लिए देश दुनिया में चर्चित हो चुके हैं, उन्होंने यह साबित कर दिखाया है कि जीव जन्तुओं और पेड़ पौधों पर भी संगीत का सकारात्मक असर होता है। 👉अपने फॉर्म हाउस पर चौरसिया जी ने किए हैं संगीत थेरेपी के सकारात्मक प्रयोग:- चौरसिया जी ने 12 एकड़ के फार्म हाउस में फसलों, गायों और वर्मी कंपोस्ट पर यह प्रयोग किए हैं. उनके द्वारा प्रयुक्त ओंकार धुन का पौधों पर चमत्कारिक असर तो दिखा ही है, भंवरे की धुन से फूलों का उत्पादन भी बढ़ा है. कहने का अर्थ यह है कि संगीत का प्रभाव उत्पादन बढ़ाने में बहुत अच्छी भूमिका निभा सकता है। 👉केंचुआ को संगीत सुनाकर बढ़ाया वर्मी कंपोस्ट का प्रोडक्शन:- अपने खेत में कुछ हजार का म्यूजिक सिस्टम लगाने वाले आकाश चौरसिया ने संगीत के जरिए लाखों का मुनाफा कमाया है. वे किसान भाइयों को ना सिर्फ जैविक खेती के नए-नए तरीके सिखा रहे हैं, बल्कि म्यूजिक थेरेपी के सफल प्रयोग का प्रशिक्षण भी दे रहे हैं. हमारे किसान भाई जिन जीव जन्तुओं और पेड़ पौधों के संपर्क में रात दिन रहते हैं, उनमें जीवन का स्पंदन में महसूस करते हैं. यदि वे उन्हें संगीत से जोड़ दें, तो उनके उत्पादन की गुणवत्ता भी बढ़ेगी और उत्पादन भी और वे ज्यादा से ज्यादा मुनाफा कमा सकेंगे। स्रोत:-Agrostar 👉किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
9
1