कृषि वार्ताकृषि जागरण
वर्ष 2020- 2021 मुख्य फसलों का चौथा अग्रिम अनुमान हुआ जारी!
👉सरकार और किसानों की मेहनत आज रंग लायी है. सरकार और किसानों ने कड़ी मेहनत कर चुनौतियों का सामना कर देश में खाद्यान्न उत्पादन में सफलता हासिल की है. कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय ने वर्ष 2020-21 के लिए मुख्य फसलों के उत्पादन का चौथा अग्रिम अनुमान जारी किया है। 👉देश का खाद्यान्न उत्पादन फसल वर्ष 2020-21 में 3.74 प्रतिशत बढ़कर 308.65 मिलियन टन के नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने का अनुमान है. यह 2019-20 के उत्पादन की तुलना में 11.14 मिलियन टन अधिक है. पिछले साल औसत से 24 फीसदी बारिश ज्यादा हुई है जिसका फायदा खरीफ फसलों को हुआ और चावल सहित सीजन की फसलों के बंपर पैदावार की उम्मीद और बढ़ गई है. वर्ष 2020-21 के दौरान खाद्यान्ना उत्पाटदन विगत पांच वर्षों (2015-16 से 2019-20) के औसत खाद्यान्न, उत्पादन की तुलना में 29.77 मिलियन टन अधिक है। कृषि मंत्री का क्या है कहना:- 👉कृषि मंत्रालय ने साल 2020 और 2021 के लिए मुख्य फसलों के उत्पादन का चौथा अग्रिम अनुमान जारी कर दिया हैं. खाद्यान्न का 308.65 मिलियन टन रिकॉर्ड उत्पादन रहने का अनुमान है. ऐसे में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि किसानों के अथक परिश्रम, वैज्ञानिकों की कुशलता और किसान हितैषी नीतियों से देश में रिकॉर्ड खाद्यान्न उत्पादन हो रहा है. इस बारे में कृषि मंत्री की ट्विटर लिंक पर जानकारी दी गयी है। गेहूं-चावल का उत्पादन:- 👉चौथे अग्रिम अनुमान के अनुसार गेहूं की फसल का उत्पादन रिकॉर्ड वर्ष 2020-21 में गेहूं- 109.52 मिलियन टन (रिकार्ड) होने का अनुमान है। 👉चावल का उत्पादन रिकॉर्ड वर्ष 2020-21 में बढ़कर रिकॉर्ड 122.27 मिलियन टन (रिकार्ड) होने का अनुमान है। मोटे अनाज का उत्पादन:- 👉मोटे अनाज का उत्पादन पहले के चार करोड़ 77.5 लाख टन से बढ़कर 51.15 मिलियन टन होने की संभावना जतायी जा रही है। दलहनी फसलों का उत्पादन:- 👉दाल की फसल का उत्पादन पिछले साल 2021 में दो करोड़ 30 लाख 30 हजार टन था दालों का उत्पादन 25.72 मिलियन टन (रिकार्ड) रिकॉर्ड अनुमान लगाया जा रहा है. तुअर दाल का - 4.28 मिलियन टन उत्पादन होने की संभावना है. चना उत्पादन - 11.99 मिलियन टन होने का अनुमान है। तिलहन का उत्पादन:- 👉तिलहन जिसमें तिल, सरसों, मूँगफली, सोयाबीन और सूरजमुखी शामिल है.तिलहन का कुल उत्पादन 36.10 मिलियन टन (रिकार्ड) हो सकता है. मूंगफली का 10.21 मिलियन टन, सोयाबीन का 12.90 मिलियन टन और रेपसीड एवं सरसों का उत्पादन 10.11 मिलियन टन होने का अनुमान है। गन्ना का उत्पादन:- 👉गन्ने का उत्पादन रिकार्ड पिछले साल 37 करोड़ पांच लाख टन था जो अब बढ़कर 399.25 मिलियन टन होने का अनुमान है। कपास का उत्पादन:- 👉कपास का उत्पादन रिकार्ड पिछले साल तीन करोड़ 60.7 लाख गांठ था जो अब घटकर 35.38 मिलियन गांठें (प्रति 170 कि.ग्रा.) रहने की उम्मीद है। जूट का उत्पादन:- 👉जूट का उत्पादन फसल वर्ष 2020-21 में 9.56 मिलियन गांठें (प्रति 180 कि.ग्रा.) गांठ रहने का अनुमान है, जबकि उत्पादन पिछले वर्ष 98.7 लाख गांठ था। स्रोत:- Krishi Jagran, 👉 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
26
3
अन्य लेख