AgroStar
यूपी सरकार 90 प्रतिशत की सब्सिडी पर दे रही सिंचाई यंत्र!
समाचारAgrostar
यूपी सरकार 90 प्रतिशत की सब्सिडी पर दे रही सिंचाई यंत्र!
👉नमस्कार किसान भाइयों आज आप लोगों के लिए भारत सरकार के द्वारा कई राज्यों में भूजल स्तर संकट का विषय बना हुआ है. ऐसे में किसानों को खेतों में सिंचाई के लिए काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.इन सब स्थितियों से निपटने के लिए और किसानों के लिए सिंचाई प्रकिया आसान करने के लिए पीएम कृषि सिंचाई योजना की शुरुआत की गई थी. 👉खरीफ की फसलों के बुवाई का वक्त आ चुका है. उत्तर भारत के कई राज्यों में इसकी बुवाई के लिए तैयारियां शुरू हो चुकी हैं. इन महीनों की फसलों पानी का काफी डिमांड करती हैं. ऐसे में किसानों के लिए सिंचाई प्रकिया आसान करने के लिए पीएम कृषि सिंचाई योजना की शुरुआत की गई है. इस योजना के तहत किसानों को सब्सिडी पर कृषि सिंचाई यंत्र मुहैया कराए जाते हैं. 👉अलग-अलग राज्य सरकारें अपने स्तर पर इस योजना के माध्यम से किसानों को सब्सिडी का लाभ प्रदान करती हैं. उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों में लघू किसानों को 90 और सीमांत किसानों को 80 प्रतिशत तक की सब्सिडी पर ड्रिप और स्प्रिंकल सिंचाई यंत्र प्रदान किए जाते हैं. वहीं छत्तीसगढ़ में 75 प्रतिशत की सब्सिडी पर ये यंत्र दिए जाते हैं. क्या है ड्रिप सिंचाई? 👉ड्रिप सिंचाई जिसे टपक सिंचाई भी कहते हैं. इस विधि में बूंद-बूंद के रूप में फसलों के जड़ क्षेत्र तक एक छोटी व्यास की प्लास्टिक पाइप से पानी प्रदान किया जाता है. ड्रिप सिंचाई विधि से फसलों की उत्पादकता में 20 से 30 प्रतिशत तक अधिक लाभ मिलता है साथ ही 60 से 70 प्रतिशत तक धिक लाभ मिलता है साथ ही 60 से 70 प्रतिशत तक पानी की बचत होती है. स्प्रिंकल विधि से कैसे होती है सिंचाई? 👉स्प्रिंकल विधि से सिंचाई नल द्वारा खेतों में पानी भेजा जाता है. वहां राइजर पाइप द्वारा खेतों में छिडक़ाव विधि से सिंचाई किया जाता है. पानी की बचत और उत्पादकता के हिसाब से स्प्रिंकल विधि ज्यादा उपयोगी मानी जाती है. इन किसानों को मिलेगा योजना का लाभ 👉योजना का लाभ प्राप्त करने हेतु इच्छुक कृषक के पास स्वयं की भूमि एवं जल स्रोत उपलब्ध हों. योजना का लाभ सहकारी समिति के सदस्यों, सेल्फ हेल्प ग्रुप, इनकार्पोरेटेड कम्पनीज, पंचायती राज संस्थाओं, गैर सहकारी संस्थाओं, ट्रस्ट्स, उत्पादक कृषकों के समूह के सदस्यों को भी मिलेगा लाभ , स्रोत:-Agrostar 👉किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
19
7
अन्य लेख