कृषि वार्ताअमर उजाला
यूपी बोर्ड का बड़ा फैसला सीधे पास होंगे कक्षा 12वीं के छात्र!
👉🏻कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के बीच देश के सबसे बड़े स्कूल शिक्षा बोर्ड वाले राज्य उत्तर प्रदेश में 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं को लेकर संशय की बढ़ता जा रहा है। इसी बीच, उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से एक नया आदेश जारी हुआ है। इससे चहुंओर कयासबाजी एक बार फिर बढ़ गई हैं कि 10वीं के साथ ही 12वीं के छात्रों को भी सीधे पास किया जा सकता है। 👉🏻 यूपी बोर्ड की ओर से पहले हाईस्कूल और अब इंटरमीडिएट के परीक्षार्थियों की 12वीं के छमाही व प्री बोर्ड परीक्षा के अंक मांगे गए हैं। बोर्ड ने इन छात्रों के 11वीं के छमाही एवं वार्षिक परीक्षा के प्राप्तांक एवं पूर्णांक वेबसाइट https://upmsp.edu.in/ पर 28 मई, 2021 तक अपलोड करने का निर्देश दिया है।  इस आदेश के बाद, माना जा रहा है कि माध्यमिक शिक्षा परिषद दोतरफा तैयारी करने में जुटी है। जैसे ही उत्तर प्रदेश शासन की ओर से परीक्षाओं को लेकर अंतिम फैसला किया जाएगा। वैसे ही बोर्ड 10वीं और 12वीं कक्षाओं के रिजल्ट को जारी करने के लिए अपनी योजना का खुलासा करेगा। 👉🏻साथ ही संभावना यह है कि अगर 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं हुई तो रिजल्ट उत्तर पुस्तिकाओं की जांच से तैयार होगा। यदि परीक्षाएं नहीं रद्द हुई तो रिजल्ट बोर्ड की आगे दी गई योजनानुसार घोषित किया जाएगा।  माध्यमिक शिक्षा परिषद दोनों तरह से तैयार है। 👉🏻इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि माध्यमिक शिक्षा परिषद, उत्तर प्रदेश की ओर से पहले सभी स्कूलों को हाईस्कूल के परीक्षार्थियों के छमाही, प्री बोर्ड परीक्षा और नौवीं कक्षा के अंकों का विस्तृत विवरण अपलोड करने का निर्देश दिया गया था। 👉🏻लेकिन अब अब इंटरमीडिएट के परीक्षार्थियों के भी प्री-बोर्ड परीक्षा के अंक माध्यमिक शिक्षा परिषद की वेबसाइट पर अपलोड होंगे। साथ ही उनके कक्षा 11 की छमाही व वार्षिक परीक्षा का भी प्राप्तांक अपलोड करना होगा।  👉🏻गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश शासन की ओर अभी तक राज्य में हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं पर कोई आधिकारिक निर्णय नहीं किया गया है। इससे 56 लाख से अधिक परीक्षार्थियों और उनके अभिभावकों के साथ ही लाखों की शिक्षकों की चिंताएं बढ़ती जा रही हैं। इस बीच, देशभर में इम्तिहान रद्द करने की मांग भी जोर पकड़ रही है।  👉🏻देश के तमाम विपक्षी दलों के नेता भी इसका समर्थन कर चुके हैं। राज्य सरकार की ओर से फिलहाल, यही जानकारी दी गई है कि जून के प्रथम सप्ताह तक परीक्षाओं के संबंध में शासनादेश के बाद स्थिति पूरी तरह से स्पष्ट हो जाएगी।    👉🏻उत्तर प्रदेश बोर्ड के सचिव दिव्यकांत शुक्ल की ओर से प्रदेश के सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को भेजे गए पत्र में कहा गया है कि फरवरी में बोर्ड की ओर से जारी एकेडमिक कैलेंडर के अनुसार प्री बोर्ड परीक्षा कराई गई थी। स्कूल 2021 की इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए पंजीकृत छात्रों की फरवरी में हुई प्री बोर्ड परीक्षा के अंक, इन परीक्षार्थियों के 11वीं के वार्षिक एवं छमाही परीक्षा के अंक 28 मई तक वेबसाइट पर अपलोड कर दें। इसके साथ 2021 में कक्षा 11की कृषि भाग-1 की बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले छात्र-छात्राओं की 2020-21 में हुई छमाही परीक्षा के अंक भी 28 मई तक वेबसाइट पर अपलोड कर दें।  👉🏻खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 क्लिक करें। स्रोत:-अमर उजाला, 👉🏻प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक👍करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
9
2
संबंधित लेख