AgroStar
सभी फसलें
कृषि ज्ञान
कृषि चर्चा
अॅग्री दुकान
यह है किसानों की मुनाफे की बात !
कृषि वार्ताAgroStar
यह है किसानों की मुनाफे की बात !
👉गहरी जुताई के फायदे:- खरीफ सीजन की शुरूआत होने वाली है और इसमें बहुत कम समय बचा है, ऐसे में किसान अपने खेतों की गहरी जुताई कर सकते हैं. इससे खेती में लागत कम होने के साथ-साथ फसल के उत्पादन में भी वृद्धि होती है.और सुरक्षित उपज मिलती है। 👉तपती धूप से लोगों का हाल बेहाल और घरों से निकलना भी मुश्किल हो गया है. ऐसे में किसान इस गर्मी का फायदा उठा सकते हैं. खरीफ सीजन की शुरूआत होने वाली है और इसमें कुछ ही समय बचा है, ऐसे में किसान अपने खेतों की गहरी जुताई कर सकते हैं. इससे खेती में लागत कम होने के साथ साथ फसल के उत्पादन में भी वृद्धि होती है. यदि किसान इस गहरी जुताई करते हैं, तो उन्हें खरीफ सीजन की खेती में काफी अच्छा लाभ प्राप्त हो सकता है. 👉प्रत्येक तीन सालों में अवस्य करें गहरी जुताई:- किसानों को खरीफ सीरीज की खेती करने से पहले गर्मी के मौसम में गहरी जुताई करनी चाहिए, इससे फसल का अच्छा उत्पादन होता है. किसानों को हर 3 साल में अपने खेतों की गहरी जुताई जरूर करनी चाहिए, इससे किसानों को फसल लगाने में आसानी होती है और फसल से अधिक कमाई होती है. 👉रिवर्सिबल प्लाऊ से गहरी जुताई:- किसानों को हर तीन साल में एक बार रबी सीजन में लगाई जाने वाले फसल की कटाई के बाद खेतों की गहरी जुताई करनी चाहिए. किसानों को गहरी जुताई के लिए रिवर्सिबल प्लाऊ का उपयोग करना चाहिए. अप्रैल-मई में तेज गर्मी पड़ती है और किसानों यदि इन गिनों में खेतों की गहरी जुताई सही उपकरण से करते हैं, तो इससे फसल से अच्छी उपज प्राप्त होती है. अगर किसान रिवर्सिबल प्लाऊ से गहरी जुताई करते हैं, तो इससे लगभग 1 फीट तक की मिट्टी को आसानी से पलटा जा सकता है. 👉फायदे:- ●गहरी जुताई करने से मिट्टी की वॉटर होल्डिंग कैपेसिटी बढ़ जाती है और जब बारिश होती है तो पानी सही से खेतों में लगता है. ●तेज गर्मी पड़ने पर कीड़े नष्ट हो जाते हैं, जो कीड़े दरारों में छुपे होते हैं वो भी बाहर निकलकर नष्ट हो जाते हैं और खरपतवार भी नष्ट हो जाती है. ●गहरी जुताई होने पर खेतों पर सूरज का तेज पड़ने पर मिट्टी एकदम नई जैसी हो जाती है. ●गहरी जुताई करने से खरीफ सीजन में लगने वाली फसलों की खेती में लागत कम आती है. ●गहरी जुताई करने पर फसल में किसी तरह के रोग नहीं लगते हैं. ●वॉटर होल्डिंग कैपेसिटी बढ़ने से फसल को अच्छे न्यूट्रिएंट्स प्राप्त होते हैं, जिससे पैदावार में इजाफा होता है. 🌱स्रोत:-AgroStar किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
19
0
अन्य लेख