नई खेती नया किसानTV 9 Hindi
यह खास पौधा किसानों को बना रहा मालामाल, जानें इसकी खासियत!
👉 बदलते दौर में किसानों में भी बदलाव आ रहा है. अब वे पारंपरिक फसलों की बजाय नकदी फसलों की तरफ रुख कर रहे हैं. इन फसलों की खेती से किसानों की आमदनी बढ़ रही है और उनके जीवम में सुख-समृद्धि आ रही है. सरकार भी किसानों को पारंपरिक फसलों के साथ ही अधिक मुनाफा देने वाली फसलों की खेती करने को प्रोत्साहित कर रही है। 👉 स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता बढ़ने के कारण औषधीय गुणों से भरपूर आहार की मांग तेजी से बढ़ रही है. जिस फसल में पौष्टिकता और स्वाद का मिश्रण है, उसे बाजार हाथों हाथ ले रहा है. यहीं कारण है कि बीते कुछ वर्षों में भारत में चिया सीड की खेती के प्रति किसानों का रुझान बढ़ रहा है। खेती में मेहनत काफी कम और कमाई ज्यादा:- 👉 चिया सीड के साथ सबसे अच्छी बात है कि इसमें लागत काफी कम आता है. वहीं इसके पौधे से एक खास तरह की गंध आती है और पत्तों पर बाल उग आते हैं, जिस कारण पशु नुकसान नहीं पहुंचाते. इसके अलावा, सिंचाई की कोई खास जरूरत नहीं पड़ती है. यानी इसकी खेती में मेहनत कम है और कमाई काफी ज्यादा. चिया सीड की खेती करने वाले किसान बताते हैं कि एक एकड़ में आसानी से 6 लाख रुपए तक की कमाई हो जाती है। आखिर क्यों इतना खास है चिया सीड? 👉 चिया सीड के बीज में स्वाद और पौष्टिकता का पूरा खजाना मौजूद है. इसके बीज में 30 से 35 प्रतिशत उच्च गुणवत्ता वाला तेल पाया जाता है. यह ओमेगा-3, ओमेगा-6 और फैटी एसिड का बेहतरीन स्रोत है. यह तेल सामान्य स्वास्थ्य और हृदय के लिए अति उत्तम माना जाता है। 👉 चिया सीड के बीज में अधिक मात्रा में प्रोटीन, खाने योग्य रेशा, एंटी ऑक्सीडेंट, खनिज लवण और विटामिन्स मौजूद रहते हैं. इसके अलावा चीया सीड में दूध की तुलना में 6 गुना अधिक कैल्शियम पाया जाता है. चिया सीड में वजन से 12 गुना अधिक मात्रा में पानी सोखने की क्षमता होती है. इसी कारण खाद्य उद्योग के लिए इसे अधिक उपयोगी माना जाता है। 👉 चिया सीड को सलाद के रूप में भी उपोयग किया जाता है. दूध और छाछ के साथ इसका सेवन स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है. इसके हरे पत्ते से बनी चाय भी काफी लाभकारी होती है. इसके बीज को भूख शांत करने और वजन घटाने में काफी उपयोगी माना जाता है। दवाई निर्माता कंपनियां करा रहीं कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग:- 👉 विशेषज्ञ बताते हैं कि चिया सीड के सेवन करने से शरीर में 18 प्रतिशत कैल्शियम की कमी पूरी हो जाती है. पाचन तंत्र के सुधार और शुगर रोगियों के लिए भी इसे उपयोगी माना जाता है. इस फसल से अधिकतम उपज और लाभ लेने के लिए जैविक तरीके से वैज्ञानिक खेती करनी चाहिए. इसके महत्व को जानने वालों के बीच इसका बाजार आसानी से बन सकता है। 👉 डॉक्टर भी चिया सीड खाने की सलाह देते हैं. वहीं कई दवाई बनाने वाली कंपनियां कॉन्ट्रैक्ट पर चिया सीड की खेती करा रही हैं. खेती के लिए चिया सीड के बीज को ऑनलाइन भी मंगवाया जा सकता है। स्रोत:- TV 9 Hindi, 👉 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
10
8
संबंधित लेख