एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस
मेंथा या पिपरमिंट की फसल के अच्छे वृद्धि-विकास के लिए!
👉🏻किसान भाइयों गर्मियों के मौसम में मेंथा या पिपरमिंट की खेती किसानों के लिए एक अतिरिक्त आय का स्रोत है। मेंथा या पिपरमिंट की फसल के अच्छे वृद्धि-विकास के लिए संतुलित मात्रा में खाद एवं उर्वरकों का प्रयोग करें। बीजों के अंकुरण और पहली सिंचाई के बाद ह्यूमिक एसिड 95% @ 250 ग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करें। इसके एक सप्ताह बाद पानी में घुलनशील उर्वरक N:P:K 19:19:19 @ 1 किग्रा० प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर फसल पर छिड़काव करें। स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, 👉🏻 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
26
6
संबंधित लेख