एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
मूली के फसल के लिए बीज उपचार!
🌱मूली की फसल को बीज एवं मृदा जनित रोग जैसे की उखटा , जड़ गलन इत्यादि रोगो से बचाने के लिये बीजोपचार आवश्यक है। मूली के बीज को बुवाई से पूर्व ट्राइकोडर्मा विरडी 4 ग्राम प्रति किलोग्राम बीज की दर से उपचारित करें। स्रोत:-एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस,, 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
3
0
अन्य लेख