क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
मटर में उकठा (विल्ट) रोग का नियंत्रण!
👉किसान भाइयों उकठा रोग का प्रकोप जमाव से लेकर कटाई तक हर अवस्था में हो सकता है। उकठा रोग का प्रकोप बढवार से लेकर फली आने की अवस्था में हो सकता है। नियंत्रण के उपाय:- 👉बीज शोधन हेतु थीरम 75 प्रतिशत कार्बेण्डाजिम 50 प्रतिशत+ (2:1) 3 ग्राम प्रति किग्रा0 की दर से बीज शोधित कर बुवाई करना चाहिए। 👉ट्राइकोडरमा 4 ग्राम प्रति किग्रा0 बीज की दर से बीजोपचार कर बुवाई करनी चाहिए। 👉पी0एस0वी0 कल्चर(राइजोरियम कल्चर) 200 ग्राम प्रति 10 किग्रा0 बीज की दर से बोने से पूर्व सायंकाल उपचारित अवश्य करना चाहिए। 👉भूमि शोधन हेतु 2.5 किग्रा0 प्रति हे0 ट्राइकोडरमा को लगभग 75 किग्रा0 गोबर की खाद में मिलाकर हल्के पानी का छीटा देकर 8-10 दिन तक छाया में रखने के उपरान्त बुवाई से पूर्व भूमि में मिला देना चाहिए। स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, यदि आपको आज के सुझाव में दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद।
9
3
संबंधित लेख