क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
पशुपालनकिसान समाधान
भारत में पशुओं की नस्लें व उनकी विशेषताएं!
👉🏻भारत में मवेशियों की नस्ल जो अक्सर पहुपालन में डेयरी के लिए या अन्य कार्यों के लिए पाली जाती हैं | नीचे कुछ मवेशियों की नस्लें उनकी विशेषताओं के साथ दी गई है, आप अपनी आवश्यकताओं के अनुकूल इनमें से पशुपालन के लिए चुमाव कर सकते हैं | -:दुधारू नस्ल:- साहीवाल:- 👉🏻मुख्यतः पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, बिहार व मध्य प्रदेश में पाया जाता है। 👉🏻दुग्ध उत्पादन- ग्रामीण स्थितियों में 1350 किलोग्राम 👉🏻व्यावसायिक फार्म की स्थिति में- 2100 किलो ग्राम 👉🏻प्रथम प्रजनन की उम्र – 32-36 महीने 👉🏻प्रजनन की अवधि में अंतराल – 15 महीने गीर:- 👉🏻दक्षिण काठियावाड क़े गीर जंगलों में पाये जाते हैं। 👉🏻दुग्ध उत्पादन- ग्रामीण स्थितियों में- 900 किलोग्राम। 👉🏻व्यावसायिक फार्म की स्थिति में- 1600 किलोग्राम। थारपकर:- 👉🏻मुख्यतः जोधपुर, कच्छ व जैसलमेर में पाये जाते हैं! 👉🏻दुग्ध उत्पादन- ग्रामीण स्थितियों में- 1660 किलोग्राम! 👉🏻व्यावसायिक फार्म की स्थिति में- 2500 किलोग्राम! करन फ्राइ:- 👉🏻करण फ्राइ का विकास राजस्थान में पाई जाने वाली थारपारकर नस्ल की गाय को होल्स्टीन फ्रीज़ियन नस्ल के सांड के वीर्याधान द्वारा किया गया। यद्यपि थारपारकर गाय की दुग्ध उत्पादकता औसत होती है, लेकिन गर्म और आर्द्र जलवायु को सहन करने की अपनी क्षमता के कारण वे भारतीय पशुपालकों के लिए महत्वपूर्ण होती हैं। 👉🏻इसके मादा बच्चे नर बच्चों की तुलना में जल्दी वयस्क होते हैं और 32-34 महीने की उम्र में ही गर्भधारण की क्षमता प्राप्त कर लेते हैं। गर्भावधि 280 दिनों की होती है। 👉🏻दुग्ध उत्पादन : करन फ्राइ नस्ल की गायें साल भर में लगभग 3000 से 3400 लीटर तक दूध देने की क्षमता रखती हैं। 👉🏻संस्थान के फार्म में इन गायों की औसत दुग्ध उत्पादन क्षमता 3700 लीटर होती है, जिसमें वसा की मात्रा 4.2% होती है। इनके दूध उत्पादन की अवधि साल में 320 दिन की होती है। लाल सिंधी:- 👉🏻मुख्यतः पंजाब, हरियाणा, कर्नाटक, तमिल नाडु, केरल व उडीसा में पाये जाते हैं। 👉🏻दुग्ध उत्पादन- ग्रामीण स्थितियों में- 1100 किलोग्राम व्यावसायिक 👉🏻फार्म की स्थिति में- 1900 किलोग्राम दुधारू व जुताई कार्य में प्रयुक्त नस्ल:- ओन्गोले:- 👉🏻मुख्यतः आन्ध्र प्रदेश के नेल्लोर कृष्णा, गोदावरी व गुन्टूर जिलों में मिलते है। 👉🏻दुग्ध उत्पादन- 1500 किलोग्राम बैल शक्तिशाली होते है व बैलगाडी ख़ींचने व भारी हल चलाने के काम में उपयोगी होते है। हरियाणा:- 👉🏻मुख्यतः हरियाणा के करनाल, हिसार व गुडगांव जिलों में व दिल्ली तथा पश्चिमी मध्य प्रदेश में मिलते है। 👉🏻दुग्ध उत्पादन- 1140 से 4500 किलोग्राम बैल शक्तिशाली होते हैं व सडक़ परिवहन तथा भारी 👉🏻हल चलाने के काम में उपयोगी होते है। कांकरेज:- 👉🏻मुख्यतः गुजरात में मिलते हैं। 👉🏻दुग्ध उत्पादन- ग्रामीण स्थितियों में- 1300 किलोग्राम व्यावसायिक फार्म की स्थिति में- 3600 किलोग्राम 👉🏻प्रथम बार प्रजनन की उम्र- 36 से 42 महीने प्रजनन की अवधि में अंतराल – 15 से 16 महीने 👉🏻बैल शक्तिशाली, सक्रिय व तेज़ होते है। हल चलाने व परिवहन के लिये उपयोग किये जा सकते है। देओनी:- 👉🏻मुख्यतः आंध्र प्रदेश के उत्तर दक्षिणी व दक्षिणी भागों में मिलता है। 👉🏻गाय दुग्ध उत्पादन के लिये अच्छी होती है व बैल काम के लिये सही होते हैं। 👉🏻डेयरी नस्लें जर्सी प्रथम बार प्रजनन की उम्र- 26-30 महीने 👉🏻प्रजनन की अवधि में अंतराल- 13-14 महीने दुग्ध उत्पादन- 5000-8000 किलोग्राम डेयरी दुग्ध की नस्ल रोज़ाना 20 लीटर दूध देती है 👉🏻व्यावसायिक फार्म के लिये गाय अथवा भैंस की नस्ल का चुनाव करना गाय बाज़ार में अच्छी नस्ल व गुणवत्ता की गायें उपलब्ध है व इनकी कीमत प्रतिदिन के दूध के हिसाब से 1200 से 1500 रूपये प्रति लीटर होती है। उदाहरण के लिये 10 लीटर प्रतिदिन दूध देनेवाली गाय की कीमत 12000 से 15000 तक होगी। यदि सही तरीके से देखभाल की जाए तो एक गाय 13 – 14 महीनों के अंतराल पर एक बछडे क़ो जन्म दे सकती है। ये जानवर आज्ञाकारी होते है व इनकी देखभाल भी आसानी से हो सकती है। भारतीय मौसम की स्थितियों के अनुसार होलेस्टिन व जर्सी का संकर नस्ल सही दुग्ध उत्पादन के लिये उत्तम साबित हुए है। गाय के दूध में वसा की मात्रा 3.5 से 5 प्रतिशत के मध्य होता है व यह भैंस के दूध से कम होता है। 👉🏻खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 क्लिक करें। स्रोत:- Kisan Samadhan, 👉🏻प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
11
1
संबंधित लेख