बिजली बेचकर करें आमदनी!
कृषि वार्ताAgrostar
बिजली बेचकर करें आमदनी!
👉सरकार द्वारा देश भर में रूफटॉप सोलर योजना फेस-2 चलाई जा रही है जिसके तहत लाभार्थी व्यक्ति को 10 किलोवॉट तक के सोलर पैनल संयंत्र स्थापित करने पर सब्सिडी दी जाती है। यह योजना का क्रियान्वयन पूरे देश में भारत सरकार के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है। योजना का लाभ अलग-अलग राज्यों की विद्युत वितरण कंपनी के द्वारा दिया जा रहा है। इसी तरह मध्य प्रदेश में भी योजना का क्रियान्वयन मध्य प्रदेश विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड के द्वारा किया जा रहा है। 👉मध्य प्रदेश के पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड ने अपने पोर्टल पर केलकुलेटर भी उपलब्ध कराया गया है, जिससे उपभोक्ता आवश्यकतानुसार प्रति किलोवॉट राशि की गणना कर सोलर संयंत्र स्थापित करवा सकते हैं। उपभोक्ता सूचीबद्ध वेंडर्स से रूफटॉप सोलर प्लांट लगवा सकते हैं। इसके लिए उन्हें निर्धारित दर के अनुसार कुल कीमत में से अनुदान राशि घटा कर शेष राशि का ही भुगतान वेंडर्स को करना होगा, जिसकी प्रक्रिया पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्ध है। ◆बिजली बेचकर करें आमदनी 👉सोलर पैनल संयंत्र के साथ नेट मीटर एवं जनरेशन मीटर भी स्थापित किया जाएगा, जिसका व्यय संबंधित उपभोक्ता द्वारा वहन किया जायेगा। उपभोक्ता सोलर पेनल से उत्पादित एवं कंपनी को बेची गई अतिरिक्त बिजली से लाभ कमा सकेंगे, जिसकी गणना नेट मीटर के माध्यम से की जाएगी। ◆सब्सिडी पर सोलर पैनल की स्थापना के लिए यहाँ करें ऑनलाइन आवेदन 👉रूफटॉप सोलर योजना की पूरी जानकारी कंपनी के पोर्टल mpez.co.in पर उपलब्ध है। सोलर संयंत्र लगवाने के लिए इच्छुक घरेलू बिजली उपभोक्ता ‘‘स्मार्ट बिजली ऐप’’ से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं, जिसमें उपभोक्ता को अपना आधार कार्ड एवं फोटो अपलोड करना होगा। 👉योजना में अनुदान का लाभ पाने के लिए घरेलू उपभोक्ताओं को केवल विद्युत वितरण कंपनी द्वारा अधिकृत वेंडर से ही रूफटॉप सोलर प्लांट स्थापित कराना होगा ताकि सोलर पैनल एवं अन्य उपकरणों की स्थापना मंत्रालय के मानक एवं निर्देशों के अनुसार हो सके। साथ ही संबंधित वेंडर्स द्वारा रूफटॉप सोलर प्लांट का 5 साल तक रखरखाव भी किया जायेगा। 👉स्रोत:- Agrostar, किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
31
3
अन्य लेख