कृषि वार्ताKrishi Jagran
फूड प्रोसेसिंग, एफपीओ और स्वयं सहायता समूहों के लिए जारी हुआ 1655 करोड़ रुपए!
👉देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लगातार प्रयास रहता है कि वह कषि क्षेत्र को विकास के पथ पर अग्रसर करते रहें. इसके लिए तमाम सरकारी योजनाएं भी संचालित हो रही हैं. इसके साथ ही सरकार द्वारा हर क्षेत्र के लिए धनराशि भी प्रदान की जाती है। 👉इसके चलते ही पीएम मोदी ने 4 लाख स्व-सहायता समूहों को लगभग 1,625 करोड़ रुपए की सहायता धानराशि जारी की है। 👉इसके साथ ही पीएम फॉर्मलाइजेशन ऑफ माइक्रो फूड प्रोसेसिंग एंटरप्राइजेज (PM Formalization of Micro Food Processing Enterprises) के तहत आने वाले लगभग 7,500 स्व-सहायता समूहों को लगभग 25 करोड़ रुपए की आरंभिक धनराशि जारी की है। 👉जानकारी के लिए बता दें कि खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय द्वारा पीएमएफएमई संचालित की जा रही है. इतना ही नहीं, पीएम मोदी ने इस मिशन के तहत आने वाले लगभग 75 एफपीओ (FPO) को लगभग 4.13 करोड़ रुपए की धनराशि प्रदान दी है। पीएम मोदी ने किया संवाद:- 👉दरअसल, ‘आत्मनिर्भर नारी-शक्ति से संवाद’ नाम से एक कार्यक्रम आयोजित हुआ. इस कार्यक्रम के तहत पीएम मोदी ने दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़ी महिला स्वयं-सहायता समूहों के सदस्यों से बातचीत की. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि पिछले 7 सालों में स्वयं सहायता समूहों में 3 गुना से ज्यादा बढ़ोत्तरी हुई है. इसके साथ ही . 3 गुना महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित हुई। देश में 70 लाख स्वयं सहायता समूह:- 👉पीएम मोदी ने आगे कहा कि हमारे देश में लगभग 70 लाख स्वयं सहायता समूह हैं. इन सूमह से लगभग 8 करोड़ महिलाएं जुड़ी हैं। 👉उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में दीन दयाल अंत्योदय योजना और स्वयं सहायता समूह एक नई क्रांति ला रही हैं. ऐसा केवल स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं की मदद से हुआ, क्योंकि पिछले कई सालों से स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं ने ऋण वापसी को लेकर अच्छा कार्य किया है। 👉पीएम मोदी ने बताया कि एक समय ऐसा था, जब इस लोन का 9 प्रतिशत राशि डूब जाया करती थी और वापस ही नहीं हो पाती थी. मगर अब यह घटकर दो-ढाई प्रतिशत रह गई है.’ ऐसे में अब स्वयं सहायता समूह को और प्रोत्साहित किया जाएगा. इसके लिए उन्हें लगभग 20 लाख रुपए तक का ऋण उपलब्ध होगा. बता दें कि पहले यह राशि 10 लाख रुपए थी, जो कि सरकार द्वारा दोगुनी कर दी गई है। नारी शक्ति ने आत्मनिर्भर भारत अभियान को दी ताकत:- 👉पीएम मोदी का कहना है कि मौजूदा समय में देश को पूरी तरह से आत्मनिर्भर बनाना बहुत जरूरी है। 👉ऐसे में नारी शक्ति ने आत्मनिर्भर भारत अभियान को एक नई ताकत दी है. महिलाओं के अंदर आगे बढ़ने की एक अगल ही ललक है. कुछ नया कर जाने का जज्बा है, जो हम सबके लिए प्रेरणादायक है. इस तरह नारी शक्ति के सशक्त आंदेालन की झलक दिखाई देती है, साथ ही देश विकास के पथ पर और आगे बढ़ता जा रहा है। स्रोत:- Krishi Jagran, 👉 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
18
3
अन्य लेख