फिक्स डिपॉजिट पर ज्यादा मिलेगा ब्याज!
समाचारAgrostar
फिक्स डिपॉजिट पर ज्यादा मिलेगा ब्याज!
👉नमस्कार किसान भाइयों एसबीआई ने फिक्स्ड डिपॉजिट पर मिलने वाले ब्याज की दरें बढ़ाने का ऐलान किया है. यह ऐलान ऐसे समय किया गया है, जब एक दिन पहले रिजर्व बैंक ने रेपो रेट को 0.50 फीसदी बढ़ाकर 4.90 फीसदी किया है. रेपो रेट बढ़ाए जाने के बाद एक के बाद एक सारे बैंक ब्याज दरें बढ़ा रहे हैं. 👉एसबीआई चेयरमैन ने दी ये जानकारी:- एसबीआई के चेयरमैन Dinesh Kumar Khara ने आज तक के सहयोगी चैनल बिजनेस टुडे को एक इंटरव्यू में इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक के रेपो रेट बढ़ाने के बाद एसबीआई अब एफडी पर ज्यादा ब्याज देगा. उन्होंने कहा, 'जहां तक नए एफडी रेट का सवाल है, वे भी नई ब्याज दरों के अनुकूल होंगे. हम पहले ही कई परिपक्वता अवधि वाले डिपॉजिट के लिए ब्याज दरों को बढ़ा चुके हैं. 👉आरबीआई के इस ऐलान का स्वागत:- अभी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 12-24 महीने की अवधि के लिए एफडी पर 5.10 फीसदी की दर से ब्याज दे रहा है. इसी तरह 3 से 5 साल की अवधि के लिए ब्याज की दर 5.45 फीसदी है. चेयरमैन ने बताया, 'कई सारे ऐसे लोन हैं, जिनकी दरें वैरिएबल इंटेरेस्ट रेस्ट बेंचमार्क से लिंक्ड हैं. ऐसे लोन के मामलों में अब ब्याज दरें बढ़ जाएंगी.' उन्होंने क्रेडिट कार्ड को यूपीआई से लिंक करने की मंजूरी देने के आरबीआई के ऐलान का स्वागत भी किया. अभी इसकी शुरुआत रूपे कार्ड से होने वाली है. आने वाले समय में वीजा और मास्टरकार्ड आदि को भी यूपीआई से लिंक किया जा सकता है. 👉मई-जून में इतना बढ़ा रेपो रेट:- एसबीआई ने ग्राहकों को यह अच्छी खबर तब दी है, जब लोगों को बैंक एक के बाद एक झटके दिए जा रहे हैं. आरबीआई ने पिछले महीने से रेपो रेट बढ़ाने की शुरुआत की है. उसके बाद से अब तक सारे बैंक ब्याज की दरें बढ़ा चुके हैं. कुछ बैंक तो बीते एक-डेढ़ महीने में दो-दो बार ब्याज दरों को बढ़ा चुके हैं. रिजर्व बैंक ने मई में रेपो रेट को 0.40 फीसदी बढ़ाया था और इसके बाद जून में इसमें 0.50 फीसदी की बढ़ोतरी की गई. रेपो रेट बढ़ने के बाद ज्यादातर बैंक लोन पर अधिक ब्याज तो वसूल कर रहे हैं, लेकिन डिपॉजिट पर उन्होंने ग्राहकों को फायदा पास नहीं किया है 👉महंगा हो गया ICICI Bank का लोन:- इससे पहले प्राइवेट सेक्टर के दूसरे सबसे बड़े बैंक ने गुरुवार को ब्याज दरें बढ़ाने का ऐलान किया. ICICI बैंक ने बेंचमार्क लेंडिंग रेट को 0.50 फीसदी बढ़ा दिया है. अब यह दर 8.60 पर पहुंच गई है. ICICI बैंक ने MCLR को भी बढ़ा दिया है. ये बढ़ी दरें 01 जून से प्रभावी हो गई हैं. बैंक ने कहा कि ओवरनाइट, एक महीने और तीन महीने के लिए MCLR अब क्रमश: 7.30 फीसदी और 7.35 फीसदी है. इसी तरह संशोधित MCLR छह महीने के लिए 7.50 फीसदी और सल भर के लिए 7.55 फीसदी है. स्रोत:- Agrostar 👉किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
7
1
अन्य लेख