AgroStar
सभी फसलें
कृषि ज्ञान
कृषि चर्चा
अॅग्री दुकान
फसल में रसचूसक कीटों का नियंत्रण !
गुरु ज्ञानAgroStar
फसल में रसचूसक कीटों का नियंत्रण !
● क्या करें यार खीरे के फसल में चूसक कीटों का प्रकोप बहोत बढ़ गया है 😨😨?? ● खीरे की फसल में सुरुवात में कई प्रकार के चूसक कीटों जैसे माहू, हरा तेला, सफ़ेद मक्खी आदि का प्रकोप हो जाता है। ● जिसके कारण पत्तियां सिकुड़ जाती हैं। ● पौधों का पूरी तरह से विकास नहीं होता तथा पुष्पन एवं फलन की क्रिया भी बाधित होती है। ● इन चूसक कीटों के नियंत्रण के लिए 16 चिचिपे स्टीकर प्रति एकड़ फसल की ऊंचाई से 10 से 15 सेमी० ऊपर लगाना चाहिये। ● माहू, हरा तेला कीट के रासायनिक नियंत्रण के लिए एसिटामिप्रिड घटक युक्त मॅड्रिड @ 0.5 ग्राम प्रति लीटर या फिर थियोमिथाक्साम घटक युक्त क्रुझर या फिर अरेवा @ 0.5 ग्राम प्रति लीटर छिड़काव करे। ● स्त्रोत:- AgroStar किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट 💬करके ज़रूर बताएं और लाइक 👍एवं शेयर करें धन्यवाद।
13
0
अन्य लेख