बिज़नेस आईडियाजागरण
प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि केंद्र से अच्छी कमाई का सुनहरा मौका !
अगर आप अपना बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो इसमें मोदी सरकार की मदद ले सकते हैं। इस मौके का फायदा लेकर आप अपना जन औषधि केंद्रो खोल सकते हैं। खास बात है कि इसे खोलने में सरकार आपकी पूरी मदद करेगी। इसमें कमाई भी अच्‍छी है। क्‍या है बिजनेस : जन औषधि केंद्रों पर दवाएं 90 फीसद तक सस्ती मिलती हैं, क्योंकि ये जेनेरिक दवाएं हैं। ये केंद्र इसलिए खोले गए ताकि लोगों को सस्ती दवाएं मिल सकें। केंद्रीय रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा कि जन औषधि केंद्रों ने सस्ती दर पर गुणवत्तापूर्ण जेनेरिक दवा उपलब्ध कराने के प्रधानमंत्री के सपने को साकार किया है। इन केंद्रों से स्थानीय लोगों को कम कीमतों पर गुणवत्तापूर्ण दवाएं मिल रही हैं। कैसे खुलता है जन औषधि केंद्र : जन औषधि केंद्र खोलने के लिए 3 कैटेगरी हैं। पहली कैटेगरी : कोई भी व्यक्ति, बेरोजगार फार्मासिस्ट, डॉक्टर या रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर स्टोर शुरू कर सकता है। दूसरी कैटेगरी : ट्रस्ट, एनजीओ, प्राइवेट हॉस्पिटल, सोसायटी सेल्फ हेल्प ग्रुप। तीसरी कैटेगरी : राज्य सरकारों की तरफ से नॉमिनेटेड एजेंसी। जन औषधि केन्द्र के लिए रिटेल ड्रग सेल्स का लाइसेंस जन औषधि केंद्र के नाम से लेना होता है। janaushadhi.gov.in/online_registration.aspxसे Form डाउनलोड कर सकते हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि Covid-19 महामारी जैसी विशेष स्थिति में जन औषधि केंद्रों की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण हो गई है। गरीबों और जरूरतमंदों की सेवा के लिए देशभर में 7,836 जन औषधि केंद्र दिन-रात काम कर रहे हैं। दवा बेचने पर 20 फीसद तक कमीशन मिलता है। वहीं हर महीने 15 फीसद इंसेंटिव भी आता है। हालांकि इंसेंटिव की अधिकतम सीमा 10,000 रुपए महीना तय है। नॉर्थ ईस्ट राज्यों में इंसेंटिव की अधिकतम सीमा 15 हजार रुपए प्रति माह तक है। यह इंसेंटिव तब तक मिलेगा, जब तक कि 2.5 लाख रुपए पूरे न हो जाएं। 👉 खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 क्लिक करें। स्रोत:- जागरण, 👉 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
1
1
अन्य लेख