प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना!
कृषि वार्ताAgrostar
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना!
👉खेती-किसानी कभी आसान कार्य नहीं रहा है. कभी बारिश की मार तो कभी किसानों को सूखे की स्थिति झेलनी पड़ती है. कई किसानों की पूरी की पूरी फसल चौपट हो जाती है, उनके सामने जीवन यापन का संकट आ जाता है. जलवायु संकट की स्थिति देखते हुए किसान फसलों का बीमा जरूर करा लें, इससे फसल खराब होने की स्थिति में किसान मुआवजे के हकदार बन जाएंगे. क्यों शुरू की गई थी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना - 👉जागरूकता की कमी के चलते अक्सर देखा जाता है कि किसान बर्बाद फसल पर मुआवजे हासिल नहीं कर पाते हैं. किसान के सामने जीवनयापन का संकट न आए, इसी कड़ी में प्रधानमंत्री बीमा फसल योजना की शुरुआत की गई थी. इस योजना के तहत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान की भरपाई बीमा कंपनी के तहत हो जाती है। प्राकृतिक आपदा से बर्बाद फसलों पर मिलता है मुआवजा - 👉इस योजना के तहत किसान को यदि व्यक्तिगत नुकसान भी हुआ है तो उसे इसका लाभ मिलेगा. पहले सिर्फ सामूहिक स्तर पर खराब फसल पर लाभ मिलता था. किसानों को प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान की भरपाई बीमा कंपनी के तहत मिल जाती है। बर्बाद फसलों के बारे में किन्हें बताएं - 👉प्राकृतिक आपदा जैसे बेमौसम बरसात, बाढ़ इत्यादि से फसलों में काफी नुकसान होता है और किसानों को आर्थिक हानि उठानी पड़ती है. अगर अब कोई बीमित किसान ऐसी स्थिति का सामना करता है, तो वह 72 घंटों के अंदर नीचे दिए गए विकल्पों के माध्यम से सूचना दे सकता है। > क्रॉप इंश्योरेंस ऐप के माध्यम से किसान अपनी बर्बाद हुई फसल की जानकारी दे सकता है। >बीमा कंपनियों के टोल फ्री नंबर पर कॉल कर सकता है। > नजदीकी कृषि कार्यालय पर इस बारे में जानकारी दी जा सकती है। > संबंधित बैंक शाखा और जनसेवा केंद्र पर सरकार विजिट कर सकती है। किन्हें मिलेगा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ ? 👉किसान क्रेडिट कार्ड या सहकारी बैंकों से कर्ज लेने वाले किसानों का बीमा ऑटोमेटिक बैंक के माध्यम से हो जाता है. इस योजना का लाभ उठाने के पात्र वे किसान भी होंगे, जिनके पास किसान क्रेडिट कार्ड बना हुआ या बनवाया गया है या सहकारी बैंक का कर्जा नहीं है। वहीं अगर आपने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत ई मित्र या कियस्को या अन्य किसी माध्यम से फसल बीमा करवाते हैं तो भी आप इस योजना का लाभ ले सकेंगे। 👉स्त्रोत:-Agrostar किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
17
1
अन्य लेख