प्रदेश में बनेंगे निःशुल्क गौ आश्रय!
समाचारAgrostar
प्रदेश में बनेंगे निःशुल्क गौ आश्रय!
👉उत्तर प्रदेश में आए दिन सड़कों और खेतों में आवारा मवेशियों घूमते रहते हैं, जिसके कारण अनेकों दुर्घटनाएं और किसानों की फसलों को काफी नुकसान होता है. इस समस्या के समाधाने के लिए यूपी सरकार टीपीपी मॉडल पर बने गौ आश्रयों को शुरू करने की योजना बना रही है. साथ ही प्रदेश सरकार गाय आश्रय को अपनी आय खुद करने के लिए आत्मनिर्भर बनाएगी. 👉पशुपालन और डेयरी विभाग ने हाल ही में एक रिपोर्ट जारी की थी. 20वीं पशुधन गणना के मुताबिक पता चलता है कि देश में 50.21 लाख आवारा मवेशी सड़कों पर घूम रहे हैं. जिसमें राजस्थान के सबसे अधिक मवेशी शामिल हैं. राजस्थान में 12.72 लाख मवेशी हैं,जो सड़को पर घूम रहे हैं, वहीं दूसरे नबंर पर उत्तर प्रदेश है. यूपी में 11.84 लाख मवेशी सड़कों पर आवारा घूम रहे हैं. 👉यूपी इंडियास्पेंड की एक रिपोर्ट के मुताबिक 25 सितंबर 2021 तक 53,522 लोगों को 98,205 आवारा मवेशी दिए गए हैं. वहीं इसकी तुलना अगर प्रदेश के आवारा मवेशियों से करें तो यह संख्या बहुत कम है. 👉आवारा पशुओं के संरक्षण को लेकर यूपी के सीएम ने कहा कि गौशाला चलाने के लिए अर्थव्यवस्था बनाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि इसके लिए एक सेल्फ सस्टेनेबल मॉडल बनाया जाना चाहिए. 👉यूपी के सीएम ने कहा कि पीपीपी मोड पर गौशालाओं का निर्माण हो और इसे प्राकृतिक खेती, गोबर पेंट, सीएनजी और सीबीजी से जोड़ा जाए, जिससे गौशालाएं आर्थिक रूप से मजबूत होंगी और गायों के रख-रखाव और पालन-पोषण का खर्च के लिए वह खुद आत्मनिर्भर हो सकेंगी. 👉स्त्रोत:-Agrostar किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
16
1
अन्य लेख