योजना और सब्सिडीकृषि जागरण
पशुपालन के लिए 7 लाख रुपये तक का लोन और 25% सब्सिडी
• देश के किसानों के लिए हमेशा से ही खेती जितना महत्वपूर्ण रहा है उतना ही महत्वपूर्ण पशुपालन भी रहा है। • मौजूदा वक्त में पशुपालन में आज कई नई वैज्ञानिक पद्धतियां विकसित हो गई हैं जोकि किसानों के लिए काफी लाभदायक साबित हो रही है। • इसी के मद्देनज़र रखते हुए केंद्र सरकार ने डेयरी इंटरप्रेन्योर डेवलपमेंट स्कीम संचालित की है। इस स्कीम के तहत 10 भैंस की डेयरी को 7 लाख का ऋण पशुधन विभाग मुहैया कराएगा। • हर वर्ग के लिए सब्सिडी का भी प्रावधान है। योजना का लाभ सभी को मिले, इसके लिए कार्ययोजना बनाई है।
• केंद्र सरकार ने गावों में लोगों को रोज़गार मुहैया कराने के साथ ही दुग्ध उत्पादन बढ़ाने के लिए डेयरी इंटरप्रेन्योर डेवलपमेंट स्कीम शुरू की है। सरकार की ओर से फाइल मंज़ूर होते ही दो दिन के अंदर सब्सिडी भी दी जाएगी। _x000D_ • सामान्य वर्ग के लिए 25 प्रतिशत और महिला व एससी वर्ग के लिए 33 प्रतिशत सब्सिडी दी जाएगी। यह सब्सिडी संबंधित डेयरी संचालक के ही खाते में रहेगी। _x000D_ _x000D_ स्रोत: कृषि जागरण_x000D_
140
4
अन्य लेख