पशुओं के लिए मिलेगा लोन!
योजना और सब्सिडीAgrostar
पशुओं के लिए मिलेगा लोन!
👉भारत में खेती के साथ- साथ पशुपालन भी किसानों की आय का एक बहुत ही बड़ा स्त्रोत है. ग्रामीण क्षेत्रों में तो लाखों में ऐसे लोग हैं, जिनकी आजीविका का साधन ही पशुपालन है. वहीं, कई लोग तो डेयरी के माध्यम से दूध, दही और घी बेचर लाखों में कमाई कर रहे हैं. ऐसे लोगों के लिए आज हम एक बड़ी खबर लेकर आए हैं. 👉दरअसल, सरकार देश में डेयरी उद्योग को बढ़ावा देने के लिए किसानों को बंपर सब्सिडी दे रही है. साथ ही कम ब्याज दर पर किसानों को लोन भी मुहाया कराया जा रहा है. अगर आप डेयरी व्यावसाय शुरू करना चाहते हैं तो आसानी से लोन ले सकते हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय स्टेट बैंक किसानों को डेयरी बिजनेस शुरू करने के लिए लोन दे रहा है. खास बात यह है कि ये लोन डेयरी से जुड़े कई तरह के कैटेगरीज में दिया जा रहा है. आज तक के मुताबिक, बैंक डेयरी चलाने के लिए भवन निर्माण, मिल्क कलेक्शन सिस्टम, ऑटोमेटिक मिल्क मशीन और ट्रांसपोर्टिंग के लिए लोन दे रहा है. इस लोन की ब्याज दर की शुरुआत 10.85% से शुरू होती है, जो कि अधिकतम 24% तक पहुंच सकती है. 👉ऑटोमेटिक मिल्क कलेक्शन सिस्टम मशीन खरीदने के लिए आप एक लाख रुपये तक का लोन ले सकते हैं. वहीं, भवन निर्माण के लिए बैंक आपको 2 लाख रुपए तक लोन दे सकता है. इसी तरह ट्रांसपोर्टिंग के नाम पर गाड़ी खरीदने के लिए अधिकतम 3 लाख रुपये तक लोन ले सकते हैं. खास बात यह है कि बैंक लोन देने के लिए किसानों को कोई भी संपत्ति गिरवी नहीं रखवाती है. 👉वहीं, सरकार डेयरी उद्यमिता विकास योजना के तहत किसानों के डेयरी व्यवसाय शुरू करने के लिए 25 फीसदी का अनुदान भी दे रही है. यदि आप आरक्षित कोटे से हैं तो आपको 33 फीसदी सब्सिडी मिलेगी. इसके लिए आपको 10 पशुओं के साथ इस बिजनेस को शुरू करना होगा.और बैंक डेयरी चलाने के लिए भवन निर्माण, मिल्क कलेक्शन सिस्टम, ऑटोमेटिक मिल्क मशीन और ट्रांसपोर्टिंग के लिए लोन दे रहा है. 👉स्त्रोत:- Agrostar किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
41
4
अन्य लेख