क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
कृषि वार्ताTractor Junction
न्यूनतम समर्थन मूल्य: 21 लाख गेहूं किसानों के खातों में पहुंचे 44 हजार करोड़ रुपए!
👉🏻 न्यूनतम समर्थन मूल्य पर रबी की फसल की खरीद : इन राज्यों से हुई 222.34 लाख मीट्रिक टन गेहूं की हुई खरीद 👉🏻 इस समय देश के करीब सभी राज्यों में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर रबी की फसल की खरीद जारी है। गेहूं उत्पादक राज्यों में गेहूं की एमएसपी पर काफी अच्छी खरीद चल रही है जिसे लेकर किसान उत्साहित हैं। अभी तक सरकार ने गेहूं की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर करीब 222.34 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की है और इसकी एवज में 21 लाख गेहूं किसानों के खातों में पहुंचे 44 हजार करोड़ रुपए का भुगतान सीधा उनके खातों में किया गया है। मीडिया से मिली जानकारी के अनुसार 2021-22 के मौजूदा रबी विपणन सत्र (आरएमएस) में, भारत सरकार ने किसानों से 25 अप्रैल 222.33 लाख मीट्रिक टन की कुल खरीद की है जिसमें पंजाब से 84.15 लाख मीट्रिक टन, हरियाणा- 71.76 लाख मीट्रिक टन और मध्य प्रदेश -51.57 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई है। वहीं 21.17 लाख गेहूं उत्पादक किसानों को किया 43,912 करोड़ रुपए का भुगतान कर दिया गया है। इन राज्यों में गेहूं की खरीद सबसे ज्यादा 👉🏻 पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, चंडीगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान एवं अन्य खरीद राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों में गेहूं की एमएसपी पर खरीद की गति तेज हो गई है। 25 अप्रैल 2021 तक 222.33 एलएमटी (लाख मीट्रिक टन) से अधिक फसल की खरीद की जा चुकी है जबकि पिछले साल इसी अवधि में 77.57 लाख मीट्रिक टन फसल की खरीद की गई थी। पहली बार, पंजाब के किसानों ने अपनी गेहूं की फसल की बिक्री के लिए सीधे अपने बैंक खातों में भुगतान प्राप्त करना शुरू कर दिया है। करीब 8,180 करोड़ रुपये पहले ही सीधे पंजाब के किसानों के खातों में भेज दिए गए हैं। राजस्थान में एमएसपी पर अब तक 2 लाख 92 हजार टन गेहूं की हुई खरीद 👉🏻 राजस्थान में रबी विपणन वर्ष 2021- 22 में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद क्रय केंद्रों पर सुचारू रूप से जारी है। अभी तक खाद्य विभाग द्वारा महज 19 दिनों में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 2 लाख 92 हजार 925 मैट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई है। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के शासन सचिव श्री नवीन जैन ने मीडिया को बताया कि प्रदेश में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद के लिए 386 क्रय केंद्र स्थापित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर भारतीय खाद्य निगम ने 2 लाख 11 हजार 496, तिलम संघ ने 27 हजार 510, राजफेड ने 34 हजार 924 एवं नैफेड ने 18 हजार 993 मैट्रिक टन गेहूं की खरीद अभी तक की है। उन्होंने बताया कि अभी तक मंडियों में 3 लाख 76 हजार 028 मैट्रिक टन गेहूं की आवक हुई है जिसमें से विभाग द्वारा महज 19 दिनों में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 2 लाख 92 हजार 925 मैट्रिक टन गेहूं की खरीद कर ली गई है। उन्होंने बताया कि मुख्य रूप से कोटा एवं बीकानेर संभाग में गेहूं की खरीद कार्य जारी है। बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा प्रदेश में रबी विपणन वर्ष 2021 -22 के तहत न्यूनतम समर्थन मूल्य 1 हजार 975 प्रति क्विंटल के हिसाब से 22 लाख मैट्रिक टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य निर्धारित किया है। 👉🏻 खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 क्लिक करें। स्रोत:- Tractor junction, 👉🏻 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। यदि दी गई जानकारी आपको उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
6
1
संबंधित लेख