कृषि वार्ताTV9
नहीं होगी अब डीएपी , यूरिया की कमी !
👉🏻दावा यह किया जा रहा है कि खाद की कोई कमी नहीं है, लेकिन सच ये है कि डीएपी (DAP) एवं यूरिया (Urea) की कमी से किसान परेशान हैं. ऐसे में कृषि मंत्री ने काश्तकारों को समय पर उर्वरक उपलब्ध कराने के लिए केन्द्र सरकार से अपील की है. उन्होंने नवम्बर माह में तत्काल 5 रैक डीएपी एवं 1.5 लाख मीट्रिक टन यूरिया की आपूर्ति करने का आग्रह किया है. कृषि मंत्री केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम प्रदेश की ओर से खाद की मांग रख रहे थे! 👉🏻कृषि मंत्री ने विषम परिस्थितियों में राजस्थान को डीएपी एवं यूरिया उपलब्ध कराने के लिए केन्द्र सरकार का धन्यवाद ज्ञापित किया. उन्होंने कहा कि राज्य में अभी रबी फसलों की बुवाई चल रही है. प्रदेश को डीएपी की 5 रैक की तत्काल आवश्यकता है. साथ ही नवम्बर माह में 1.5 लाख टन यूरिया की शीघ्र आपूर्ति करवाई जाए. उन्होंने यह भी आग्रह किया कि दिसम्बर महीने में राज्य को 50 हजार मीट्रिक टन डीएपी एवं 3.5 लाख मीट्रिक टन यूरिया आपूर्ति करवाया जाए, ताकि किसानों को उर्वरक उपलब्धता में कोई परेशानी नहीं हो! वैकल्पिक उर्वरकों के इस्तेमाल को बढ़ावा - 👉🏻कृषि मंत्री ने प्रदेश में वैकल्पिक उर्वरकों के इस्तेमाल को बढ़ावा देने का जिक्र करते हुए कहा कि इसके लिए राज्य सरकार काश्तकारों को प्रोत्साहित कर रही है. इस साल डीएपी की कमी के दौरान सिंगल सुपर फॉस्फेट को बढ़ावा देकर आवश्यक उर्वरक की पूर्ति करवाई गई. उन्होंने बताया कि प्रदेश में सामान्य तौर पर 3.5 लाख मीट्रिक टन एसएसपी का उपयोग होता है, जो इस साल बढ़कर 6 लाख मीट्रिक टन से अधिक हो गया है! डीएपी एवं यूरिया की आपूर्ति सुनिश्चित करने का आश्वासन - 👉🏻मंत्री ने बताया कि किसानों को नैनो यूरिया लिक्विड के प्रति जागरूक कर यूरिया के विकल्प के रूप में प्रयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है. केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री ने राज्य को मांग अनुसार निरंतर डीएपी एवं यूरिया की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए आश्वस्त किया. वीडियो कॉन्फ्रेंस में कृषि विभाग के प्रमुख शासन सचिव एवं संयुक्त निदेशक भी उपस्थित थे! स्त्रोत:- TV9 👉🏻प्रिय किसान भाइयों दी गई उपयोगी जानकारी को लाइक👍🏻करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
39
2
अन्य लेख