गुरु ज्ञानएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
धान की रोपाई करते समय क्या करें क्या न करें?
खेत की तैयारी:- 👉🏻सभी मेढ़ों की मरम्मत करें। 👉🏻रोपाई से दो सप्ताह पहले खेत में गोबर की खाद डालें व जुताई करें ताकि खाद | अच्छी तरह से गल-सड़ जायें। 👉🏻खेत में अच्छी तरह से मच करें ताकि निचली सतह पर पानी जाने का अधिक नुकसान न हो। 👉🏻उर्वरक देने से पहले खेत को समतल कर लें। पौध का उखाड़ना:- 👉🏻पौध निकालने के एक दिन पहले नर्सरी में सिंचाई कर दें। पौध को बड़े ध्यान से निकालें ताकि जड़ों को नुकसान न हो। रोपाई का ढंग:- 👉🏻रोपाई को कतारों में लगाएं और केवल 3 सें.मी. गहराई तक लगाएं। 👉🏻एक स्थान पर 2-3 पौध ही रोपें। 👉🏻समय की रोपाई के लिए 15 x 20 सें.मी. की दूरी पर पौध लगाएं और देर से रोपाई करने पर लम्बी किस्में 15 x 15 सें.मी. की दूरी पर ही लगाएं परंतु बासमती किस्मों को समय व देरी से होने वाली रोपाई के लिए 15 x 15 सें.मी. की दूरी पर ही लगाएं। 👉🏻रोपाई के क्रमशः 5 व 10 दिन के बाद खाली स्थानों में पौध की रोपाई करें। 👉🏻रोपाई के बाद खेत में इतना पानी खड़ा रहना चाहिए ताकि पौधे का 2/3 भाग पानी में 5 दिन तक डूबा रहे। इससे पौध सुदृढ़ रूप से लग जाती है। यह ध्यान रहे कि:- 👉🏻पौध 25-30 दिन के ऊपर न हो। 👉🏻पौध अधिक गहरी व अधिक अंतर पर न लगे अन्यथा उत्पादन में कमी आ जायेगी। 👉🏻रोपाई वाले खेत पूरे समतल हों। 👉🏻धान के ओरिजनल बीज की खरीदारी के लिए ulink://android.agrostar.in/productlist?sku_list=AGS-S-3029,AGS-S-3030,AGS-S-3050,AGS-S-4016,AGS-S-3052,AGS-S-3031,AGS-S-3040,AGS-S-3048,AGS-S-3041,AGS-S-3049,AGS-S-3044,AGS-S-3232,AGS-S-3240,AGS-S-3051&pageName=क्लिक करें! स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, 👉🏻प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
9
2
संबंधित लेख