कृषि वार्ताTV9 Hindi
तेजी से खरीफ फसलों की बुवाई कर रहे किसान, पैदावार में बंपर वृद्धि का अनुमान!
👉देश के किसान जम कर खरीफ फसलों की बुवाई कर रहे हैं। इस वजह से पैदावार में भारी बढ़ोतरी का अनुमान है। इस बार देश के बड़े हिस्से में मॉनसून समय से दस्तक दे दिया था। वहीं दो चक्रवाती तूफान के कारण कई हिस्सों में पहले से ही बारिश का दौर शुरू हो गया। खरीफ फसलों की बुवाई में तेजी के पीछे इसे भी एक वजह माना जा रहा है। 👉शुक्रवार को कृषि विभाग के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से किए गए ट्वीट में जानकारी दी गई कि देश में 9 जुलाई, 2021 तक 499.87 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में खरीफ फसलों की बुवाई हो चुकी है। बीते साल की इसी अवधि में हुई खरीफ फसलों की बुवाई से यह 3 लाख हेक्टेयर से भी अधिक है। कृषि विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले साल इस अवधि तक 406.85 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई का काम पूरा हो गया था। 👉एक अनुमान के मुताबिक, करीब 20 करोड़ किसान खरीफ फसलों की खेती करते हैं। धान, मक्का, ज्वार, बाजरा, मूंग, मूंगफली, गन्ना और सोयाबीन जैसी फसलों की खेती प्रमुखता से होती है। इनमें से ज्यादातर फसलों की न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर सरकारी खरीद होती है। इस वजह से किसानों की अच्छी कमाई हो जाती है। किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए सरकार समय-समय पर एमएसपी दरों में बढ़ोतरी करती रहती है। 👉कृषि विशेषज्ञों के मुताबिक, कृषि कानून आने के बाद से एमएसपी और मंडियों के समाप्त होने की बात कही जा रही है। इस धारणा को गलत ठहराने के लिए सरकार ज्यादा से ज्यादा एमएसपी पर खरीद कर रही है। यहीं वजह है कि वर्तमान खरीफ और रबी सीजन में रिकॉर्ड खरीद हुई है। एमएसपी पर खरीद का लाभ किसानों को मिल रहा है और उन्हें खुले बाजार से अधिक रेट मिल रहा है। यहीं कारण है कि किसान खरीफ फसलों की जमकर खेती कर रहे हैं ताकि एमएसपी का लाभ लिया जा सके। 👉वहीं मई में आए दो चक्रवाती तूफान के कारण बारिश का दौर पहले ही शुरू हो गया। दूसरी तरफ, मॉनसून भी देश के ज्यादातर हिस्से में 7 से 10 दिन पहले पहुंच गया। इस वजह से भी खरीफ फसलों की बुवाई और रोपाई के काम में तेजी देखने को मिल रही है। हालांकि एक बड़े हिस्से के किसानों को अभी भी मॉनसून का इंतजार है। 👉हाल के कुछ वर्षों में भारत से चावल और गेहूं का निर्यात भी काफी बढ़ा है। इसका असर कृषि उपज मंडियों पर भी पड़ता है और किसानों को लाभ होता है। सरकार के प्रयासों से किसान अपनी पैदावार से अधिक लाभ कमा रहे हैं। यहीं कारण है कि फसलों की बुवाई का रकबा बढ़ रहा है। इस बार खरीफ फसलों का रकबा बढ़ने का अनुमान है, जिससे पैदावार में भी बढ़ोतरी होगी। स्रोत:- TV9 Hindi, 👉 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
1
3
अन्य लेख