मजेदारआजतक
तरबूज कहां से आया? सबसे पहले किस देश में पैदा हुआ?
👉🏻दुनियाभर में मशहूर तरबूज ऐसा फल है जिसका उपयोग गर्मी से राहत देने के लिए किया जाता है। इसकी मिठास और ताजगी आपको अलग ही दुनिया में पहुंचा देती है। लेकिन हमेशा खूबसूरत दिखने वाला तरबूज मीठा और ताजा नहीं होता। तो फिर अच्छा वाला तरबूज कहां से आता है। तरबूज सबसे पहले कहां पैदा हुआ. भारत में,, या अरब में...अमेरिका या रूस में...कहीं ऐसा न हो चीन दावा कर दे। आइए जानते हैं कि तरबूज की उत्पत्ति कहां हुई है। 👉🏻प्यास बुझाने वाला यह फल प्राचीन मेसोपोटामिया (Mesopotamia) की उपजाऊ जमीन से निकला है। जिसे आज इराक कहते हैं। यह एक घरेलू फसल हुआ करती थी। म्यूनिख में स्थित लुडविग मैक्समिलियन यूनिवर्सिटी की बॉटैनिस्ट यानी वनस्पति विज्ञानी सुजन रेनर और उनकी टीम ने घरेलू तरबूजों की जेनेटिक सिक्वेसिंग की। इन्होंने जिस प्रजाति के तरबूज की सिक्वेंसिंग की उसे सिट्रुलस लैनेटस (Citrullus Lanatus) कहते हैं। इसके अलावा छह अन्य जंगली प्रजाति के तरबूज भी मिलते हैं। 👉🏻सुजन रेनर ने बताया कि घरेलू तरबूजों का संबंध सूडान के जंगली तरबूजों से ज्यादा है। क्योंकि इनका जीनोम बहुत हद तक मिलता है। सूडान के तरबूजों का मध्यभाग लाल नहीं, सफेद होता है. वो ज्यादा मीठे नहीं होते। उनका उपयोग आमतौर पर जानवरों के चारे के लिए किया जाता है। प्रोसीडिंग्स ऑफ द नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज में प्रकाशित रिसर्च रिपोर्ट के मुताबिक सूडान का तरबूज इराक के तरबूज का पूर्वज रहा होगा। 👉🏻ऐसा लगता है कि प्राचीन किसानों ने जंगली तरबूज का मीठा वैरिएंट उगाया होगा। जो धीरे-धीरे पीढ़ी-दर-पीढ़ी और मीठा होता चला गया। लेकिन जहां तक तरबूज के अंदरूनी लाल रंग की बात है तो इसे लेकर सुजन रेनर की टीम को कोई आइडिया नहीं है कि ये कैसे आया. केमिकल कंपोजिशन निकालना आसान है, लेकिन तरबूज में यह कंपोजिनशन आया कहां से यह पता नहीं चल पाया है। स्रोत:- Aaj Tak, 👉🏻प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। यदि दी गई जानकारी आपको उपयोगी लगी, तो इसे लाइक👍🏻करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
5
1
अन्य लेख