सलाहकार लेखकड़क (अन्नदाता कार्यक्रम)
तरबूज और खरबूज की वैज्ञानिक खेती
भूमि - उचित जलनिकास वाली बलुई दोमट मिट्टी सर्वोत्तम होती है। भूमि का पी एच - 6 -7 होना चाहिए। उर्वरक - बुवाई पूर्व अच्छी सड़ी गोबर की खाद 250-300 कुंटल प्रति हेक्टेयर खेत में डालें। बीजोपचार - थाइरम 2-3 ग्राम प्रति किलो बीज के दर से उपचारित करें। बीज के अच्छे अंकुरण के लिए बीजों को 24-36 घंटे पानी में भिगोकर रखें।
बुवाई समय - मध्य फरवरी का समय सर्वोत्तम होता है। _x000D_ बुवाई विधि - 2 मी. चौड़ी एवं जमीन से उठी मेढ़ बनाकर उनके किनारे 1 -1 .5 मी की दूरी पर बीज बोएं। _x000D_ खरपतवार नियंत्रण - पौधे छोटे हों तब 2 बार निराई गुड़ाई करें। तरबूज और खरबूज की खेती की बुवाई पूर्व अलाक्लोर 50 ई सी 200 लीटर सक्रिय तत्व प्रति हेक्टर बोने के बाद या बीज अंकुरण से पहले छिड़काव करें।_x000D_ स्रोत - कड़क (अन्नदाता कार्यक्रम)_x000D_ अगर आपको यह वीडियो उपयोगी लगे तो लाइक करें एवं अपने किसान मित्रों के साथ शेयर करें।_x000D_
28
0
अन्य लेख