AgroStar
सभी फसलें
कृषि ज्ञान
कृषि चर्चा
अॅग्री दुकान
डेयरी खोलने के लिए इस योजना का लाभ!
योजना और सब्सिडीAgroStar
डेयरी खोलने के लिए इस योजना का लाभ!
✅ अगर आप भी डेयरी व्यवसाय शुरू करने की सोच रहे हैं तो सरकार की डेयरी उद्यमिता विकास योजना का लाभ उठा सकते हैं. इस योजना के तहत किसानों को सस्ते लोन के साथ-साथ सब्सिडी भी प्रदान की जाती है, ✅ क्या है डेयरी उद्यमिता विकास योजना डेयरी उद्यमिता विकास योजना (DEDS) एक सरकारी योजना है जो किसानों और पशुपालकों को डेयरी व्यापार में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करती है. इस योजना के तहत छोटी डेयरी इकाइयों के लिए लोन उपलब्ध होते हैं जो उन्हें अधिक उत्पादक बनाने और उनके लिए बेहतर बाजार उपलब्ध कराने में मदद करते हैं. डेयरी व्यवसाय करने के इच्छुक इसके लिए सब्सिडी और लोन लेने के लिए बैंक में संपर्क कर सकते हैं. ✅ कितनी मिलेगी सब्सिडी इस योजना के तहत पशुपालन करने वाले व्यक्ति को कुल प्रोजेक्ट की लागत का 33.33 फीसदी अनुदान मिलता है. योजना के लिए राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक द्वारा लोन में सब्सिडी दी जाती है. डेयरी उद्यमिता योजना के तहत 10 भैंस से डेयरी की शुरुआत करने पर सात लाख रुपए तक का लोन मिलता है. इसमें जनरल कैटेगरी को 25 प्रतिशत तक का अनुदान मिलता है, जबकि दूसरे वर्ग और महिलाओं को 33.33 फीसदी अनुदान दिया जाता है. इसके साथ ही दूध देने वाली मशीनों/मिल्कोटेस्टर/बल्क मिल्क कूलिंग यूनिट की खरीद के लिए भी इस योजना के तहत 20 लाख रुपये तक का लोन दिया जाता है. इस योजना के तहत खुद का डेयरी प्लांट शुरू करने पर प्लांट की कुल लागत का कम से कम 10 फीसदी पैसा लाभुक को लगाना पड़ेगा. ✅ कैसे करें आवेदन? डेयरी उद्यमिता विकास योजना (DEDS) के लिए आवेदन करने के लिए आपको स्थानीय बैंक या वित्तीय संस्था से संपर्क करना होगा. आवेदन करने से पहले, आपको योजना की योग्यता और आवश्यक दस्तावेजों की जांच करनी चाहिए. अधिक जानकारी के लिए आप अपने नजदीकी नाबार्ड बैंक की ब्रांच ऑफिस पर संपर्क कर सकते हैं. आप चाहें तो नाबार्ड की वेबसाइट https://nabard.org पर भी योजना के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. ✅ स्त्रोत:- AgroStar किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट 💬करके ज़रूर बताएं और लाइक 👍एवं शेयर करें धन्यवाद।
88
0
अन्य लेख