टमाटर में फल छेदक इल्ली की रोकथाम!
गुरु ज्ञानतुषार भट
टमाटर में फल छेदक इल्ली की रोकथाम!
👉किसान मित्रों टमाटर🍅की फसल में फल छेदक🐛एक प्रमुख कीट है और यह फलों को नुकसान पहुंचाता है। इस कीट का लार्वा हरे रंग का होता है और यह फसल को सबसे अधिक क्षति पहुंचाते हैं। प्रौढ़ कीट भूरे रंग के होते हैं। टमाटर में फूल आने से पहले यह सुंडी कोमल शाखाओं, पत्तियों को खाती है, जिसके कारण फसल की पत्तियों में छेद दिखाई देते है। टमाटर लगने के बाद सुंडी फल में गोल छेद बनाकर अपने शरीर का आधा भाग अंदर घुसाकर फल का गूदा खाती है जिस कारण फल सड़ जाता है। नियंत्रण: ◉इसके नियंत्रण के लिए प्रकोपित फल निकाल लीजिए उसके बाद फ्लूबेंडामाइड़ 20% डब्ल्यू.जी. 50 ग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में मिला कर छिड़काव करें। ◉क्लोरएन्ट्रानिलिप्रोल 18.5%एस.सी. 60 मिली प्रति एकड़ 200 लीटर पानी मे घोलकर छिड़काव करें। ◉कीटनाशक दवाओं का 10 से 15 दिन के अंतराल पर अदल बदल कर छिडकाव करें। स्त्रोत:-तुषार भट, 👉किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
6
1
अन्य लेख