AgroStar
जाने किस भाव पर लहसुन खरीदेगी सरकार?
बाजार समाचारAgrostar
जाने किस भाव पर लहसुन खरीदेगी सरकार?
👉🏻केंद्र सरकार द्वारा प्रतिवर्ष खरीफ एवं रबी फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य MSP जारी किए जाते हैं, जिन पर केंद्र सरकार की विभिन्न एजेंसियों के माध्यम से अलग-अलग राज्यों के किसानों से खरीद की जाती है। परंतु इन फसलों में उद्यानिकी फसलें जैसे आलू, प्याज़ लहसुन एवं टमाटर आदि शामिल नहीं है। जिसके कारण अधिक पैदावार होने से इन फसलों के भाव काफी नीचे आ जाते हैं और किसानों को उचित भाव ना मिलने से काफी आर्थिक हानि होती है। इसको देखते हुए राजस्थान सरकार ने राज्य के लहसुन उत्पादक किसानों से लहसुन खरीदने का फैसला लिया है। 👉🏻राजस्थान सरकार ने लहसून उत्पादक किसानों को राहत प्रदान करते हुए राज्य सरकार द्वारा राजफैड के माध्यम से 46830 मैट्रिक टन लहसून खरीद का निर्णय लिया गया है। स्वायत्त शासन मंत्री श्री शांति धारीवाल की पहल पर राज्य सरकार द्वारा मंगलवार को जयपुर में संबंधित विभागों के अधिकारियों की प्रमुख शासन सचिव कृषि श्री दिनेश कुमार की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में राजफैड के माध्यम से भारत सरकार द्वारा जारी स्वीकृति आदेश की शर्तों के अधीन लहसून खरीद का निर्णय लिया गया। इस भाव पर किसानों से खरीदा जाएगा लहसुन - 👉🏻केंद्र सरकार ने राजस्थान में लहसुन की सरकारी खरीद को मंजूरी दे दी है ताकि लहसुन उत्पादक किसानों को उचित भाव मिल सके। भारत सरकार ने इसके लिए लहसुन खरीद का मूल्य 2,957 रूपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया है। स्वायत्त शासन मंत्री श्री शांति धारीवाल ने किसानों की समस्या तथा उत्पादित लहसून के वर्षा के दौरान खराब होने की संभावना को देखते हुए मुख्यमंत्री के समक्ष किसानों की बात रखी। मुख्यमंत्री के निर्देश पर कृषि, उद्यानिकी, सहकारिता सहित संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक प्रमुख शासन सचिव कृषि की अध्यक्षता में आयोजित की गई। जिसमें लहसून खरीद का निर्णय लिया गया। इन ज़िलों में होगी लहसुन की सरकारी खरीद - 👉🏻राज्य में लहसुन खरीद राजफैड के माध्यम से की जाएगी। जिसमें कोटा जिले में 13 हजार 500 मैट्रिक टन लहसुन कोटा व सांगोद खरीद केन्द्र पर क्रय किया जायेगा। झालावाड़ में 8,830 मैट्रिक टन, खानपुर व भवानीमंडी खरीद केन्द्र पर, बारां में 13,700 मैट्रिक टन बारां व छींपाबड़ौद खरीद केन्द्र पर क्रय किया जायेगा। प्रतापगढ़ जिले में 5000 मैट्रिक टन, प्रतापगढ़ के खरीद केन्द्र पर, बूंदी जिले में 4000 मैट्रिक टन केशवरायपाटन खरीद केन्द्र पर खरीदा जायेगा तथा जोधपुर में 1800 मैट्रिक टन जोधपुर खरीद केन्द्र पर क्रय किया जायेगा। इसके विक्रय, गुण नियंत्रण एवं अन्य प्रक्रिया में नेफैड का सहयोग लिया जायेगा। किसान ऑनलाइन करा सकेंगे लहसुन बेचने के लिए पंजीयन - 👉🏻राज्य के किसान ऑनलाईन पंजीकरण के उपरांत स्थापित खरीद केन्द्र पर निर्धारित दिवस पर अपनी उपज बेच सकेंगे। किसानों को भुगतान खरीद के 5 दिनों में राजफैड द्वारा ऑनलाईन बैंक खातें में किया जायेगा। खरीद केन्द्रों पर गुणवत्ता एवं मापदंड की जांच मे सहयोग के लिये कृषि एवं उद्यानिकी विभाग के अधिकारी रहेंगे। स्त्रोत:- Agrostar 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
9
2
अन्य लेख