समाचारZeebiz
जानें खेती में ज्यादा कमाई वाले 7 काम !
👉 भारत में लगभग 20.5 मिलियन लोगों का जीवन पशुधन पर निर्भर हैं. पशुपालन खेती से पैसा कमाना सबसे शानदार कामों में से एक है. यहां हम पशुपालन से जुड़े ऐसे 7 कामों के बारे में बता रहे हैं जिनमें से किसी एक काम भी खेती के साथ-साथ करते हुए आप अपनी आदमनी में इजाफा कर सकते हैं. डेयरी फार्मिंग 👉 किसी किसान के लिए दुधारू पशु पालकर डेयरी का काम शुरू करना बहुत आसान है. इससे खेती के लिए खाद मिलता है. डेयरी फार्मिंग के लिए सरकार हर स्तर पर मदद मुहैया कराती है. नाबार्ड तो इस काम के लिए लोन पर सब्सिडी भी मुहैया कराता है. दूध और दूध से बने सामान की मांग हमेशा बनी रहती है, इसलिए डेयरी फार्मिंग हर हाल में कमाई वाला कारोबार है. बकरी पालन 👉 पशु पालन का ही एक हिस्सा है बकरी पालन. बकरी पालन के काम को बहुत छोटे स्तर पर भी शुरू किया जा सकता है. बकरी पालन को कम जगह, कम पूंजी और कम देखभाल की जरूरत होती है. शहरों में बकरी के दूध की मांग काफी रहती है और इसका दूध बहुत महंगा बिकता है. मोती की खेती 👉 भारत में की जगहों पर मोती (पर्ल) की खेती की जाने लगी है. इस काम को कम जमीन पर शुरू किया जा सकता है. भुवनेश्वर स्थित सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ फ्रेश वॉटर एक्वाकल्चर में तो मोती की खेती की ट्रेनिंग दी जाती है. 👉 10x10 फीट के तालाब में मोतियों की खेती की जा सकती है. सीप के अंदर ऑपरेशन के जरिए कोई आकार डालकर मोती तैयार किया जाता है. मोती की खेती के लिए सबसे अच्छा मौसम अक्टूबर से दिसंबर तक का समय माना जाता है. एक सीप 8 से 12 रुपये की आती है. बाजार में 1 मिमी से 20 मिमी सीप के मोती का दाम करीब 300 रुपये से लेकर 1500 रुपये तक है. आजकल डिजायनर मोतियों को खासा पसन्द किया जा रहा है जिनकी बाजार में अच्छी कीमत मिलती है. बटेर पालन 👉 बटेर पक्षी के मांस और अंडे की बाजार में काफी मांग रहती है. मुर्गी पालन से कम लागत और कम समय में बटेर पक्षी तैयार हो जाता है. बटेर एक साल में तीन से चार पीढ़ियों को जन्म दे सकने की क्षमता रखती है. मादा बटेर 45 दिन की आयु से ही अण्डे देना शुरू कर देती है. एक मुर्गी के लिए स्थान में 8 से 10 बटेर रखे जा सकते हैं. स्रोत:- Zeebiz, 👉प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍🏻 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
21
5
संबंधित लेख