जानें किस-किस किसानों को मिलेगा लाभ!
योजना और सब्सिडीAgrostar
जानें किस-किस किसानों को मिलेगा लाभ!
👉किसी भी फसल में समय पर सिंचाई फसल की पैदावार पर काफी असर डालती है। अगर फसल की समय पर सिंचाई और खाद नहीं डाला जाएगा तो किसानों को फसल तैयार करने में बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। इस समस्या को दूर करने के लिए सरकार द्वारा निशुल्क बोरिंग योजना की शुरुआत की गई है जिसका फायदा राज्य के सभी वर्ग के किसान उठा सकते हैं। यदि आपके पास कम जमीन है तो आप समूह बनाकर निः शुल्क बोरिंग के लिए आवेदन कर सकते है। 👉 निशुल्क बोरिंग योजना इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान के पास खेती योग्य भूमि होनी चाहिए। तभी वह इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है इसके लिए सभी जरूरी दस्तावेज़ व आवेदन प्रक्रिया नीचे दी गई है। 👉यूपी निःशुल्क बोरिंग योजना का उद्देश्य:- किसानों को सहायता प्रदान करना है। इसके साथ ही राज्य के किसानों को मुफ्त बोरिंग सुविधा प्रदान की जाएगी। जिससे किसानों को सिंचाई करने मे सहायता मिलेगी। और खेत की गुणवत्ता बढ़ने के साथ ही उत्पादन भी बढ़ेगा। और अधिक खेती व उत्पादन होने से किसानों की आय भी बढ़ेगी जिससे की किसानों का जीवन स्तर ऊपर उठेगा। 👉निःशुल्क बोरिंग योजना के लाभ:- • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा निःशुल्क बोरिंग योजना का लाभ लघु एवं सीमांत कृषकों को दिया जायेगा। • निःशुल्क बोरिंग योजना 2023 के तहत लघु कृषकों को 5,000 रूपये अनुदान दिया जायेगा। • उत्तर प्रदेश सरकार ने सन 1985 में रज्य के लघु एवं सीमांत किसानों को बोरिंग की सुविधा योजना को शुरू किया गया था। • 7000 रूपए की राशि सीमान्त किसानों को दी जाएगी। • न्यूनतम जोत भूमि 0.2 हेक्टेयर वाले किसानों को ही योजना का लाभ मिलेगा। • अनुसूचित जाति एवं जनजाति वाले लाभार्थियों को 10,000 रूपए की राशि दी जाएगी। • 0.2 हेक्टेयर से कम भूमि वाले किसान समूह बनाकर मुख्यमंत्री लघु सिंचाई योजना का लाभ ले सकते हैं। 👉निःशुल्क बोरिंग योजना 2023 आवेदन करने की प्रक्रिया:- • सबसे पहले आपको लघु सिंचाई विभाग, उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट Minorirrigationup.Gov.In के होम पेज पर जाना है। 👉स्त्रोत:-Agrostar किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
23
8
अन्य लेख