सलाहकार लेख एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस
जानें आलू की फसल में मिट्टी चढाने के फायदे!
👉किसान भाइयों आज की इस चर्चा में हम आलू की फसल में मिट्टी चढाने (Earthing) की प्रक्रिया तथा इसके फायदे के बारे में जानेंगें। 👉किसान भाइयों आलू की फसल में मिट्टी दो लाइनों के बीच से लेकर फसल की लाइनों यानि मेड़ों पर चढ़ाते हैं। इस प्रक्रिया को अपनाने से आलू के कंदों का अच्छा विकास होता है तथा आलू के कंद सीधे सूर्य के प्रकाश के संपर्क में नहीं आते हैं। कंदों के सीधे सौर प्रकाश के संपर्क में आने से कंदों का रंग हरा हो जाता है तथा उनमे एक विषैले पदार्थ सोलेनिन का निर्माण हो जाता है जिसके कारण आलू बेस्वाद व कड़वा हो जाता है। आलू हरा हो जाने पर वह खाने योग्य नहीं रह जाता तथा उचित बाजार भाव भी नहीं मिलता। इस समस्या से बचाव के लिए जब आलू की फसल में कंद बनने लगें तो पंक्ति के किनारों मिटटी लेकर कंदो को भली प्रकार ढक देना चाहिए तथा आवश्यकता पड़ने पर इस प्रक्रिया को दोहराया जा सकता है। 👉🏻खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 क्लिक करें। स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक👍करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
43
7
अन्य लेख