क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
कृषि यांत्रिकरणकृषि जागरण
जानिये, सोलर ऊर्जा से चलने वाले कृषि पम्प के फायदे!
👉🏻खेती-बाड़ी की प्रक्रिया में काफी कठिनाई आती है, लेकिन अगर खेती के लिए कृषि यंत्रों की मदद ली जाए, तो इसे थोड़ा सरल बनाया जा सकता है। खेती की प्रक्रिया में सिंचाई का कार्य में शामिल है। इसके बिना खेती की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। 👉🏻ऐसे में सिंचाई के पंप किसानों के लिए किसी वरदान से कम नहीं हैं। अक्सर किसानों के लिए अधिक आर्थिक लागत परेशानी का कारण बनती है। लिहाजा सस्ते उपकरण के साथ-साथ ऊर्जा के किफायती स्रोत का इस्तेमाल जरूरी हो जाता है। अगर पारम्परिक कृषि पंप की बात करें, तो यह बिजली या महंगे ईंधन द्वारा चलते हैं, जिससे सिंचाई का काम हो जाता है, लेकिन लागत अधिक आ जाती है, जिससे किसानों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। मगर मौजूदा समय में किसानों को सौर ऊर्जा के उपयोग वाले कृषि पंप से कई तरह की सुविधाएं मिल रही हैं। सरकारें भी अपने-अपने स्तर पर इसे बढ़ावा दे रही हैं। आइए आपको सौर ऊर्जा कृषि पंप के 7 बड़े फायदे बताते हैं। 1. परिचालन लागत का कम होना:- 👉🏻सौर ऊर्जा (Solar Energy) से चलने वाले कृषि पंप मुफ्त उपलब्ध सूर्य के प्रकाश का इस्तेमाल करता है। यह बिजली और डीजल जैसे महंगे ऊर्जा पर निर्भर होना नहीं पड़ता है। इसे चलाने के लिए बार-बार आर्थिक भार भी उठाने की जरूरत नहीं होती है। सूर्य के प्रकाश से सोलर पैनल चार्ज होते हैं, इसलिए आप अपनी जरूरत के हिसाब से उसे चलाकर पानी का उपयोग कर सकते हैं। 2. बाहरी ऊर्जा की खपत नहीं:- 👉🏻इसे लगाने के बाद ऊर्जा के किसी महंगे स्रोतों पर निर्भर नहीं रहना पड़ता है, क्योंकि इसके लिए बस सूर्य की रोशनी और सोलर पैनल की जरूरत होती है। इसके जरिए सुदूर इलाकों में भी अपने फसल को पानी पहुंचा सकते हैं। इसके इस्तेमाल से किसान सिंचाई को लेकर अपनी ऊर्जा खपत के मामले में आत्मनिर्भर हो रहे हैं। 3. पर्यावरण के अनुकूल:- 👉🏻सौर ऊर्जा कृषि पंप से ध्वनि और वायु प्रदूषण नहीं होता है। यह पर्यावरण के अनुकूल हैं, क्योंकि इन्हें किसी भी ऐसे ईंधन से नहीं चलाया जाता है, जो प्रदूषण की वजह बनते हैं। इसके जरिए कोई भी हानिकारक पदार्थ मुक्त नहीं होता है, जिससे पर्यावरण के लिए समस्या हो। 4. आसान और विश्वसनीय:- 👉🏻सौर ऊर्जा (Solar Energy) की मदद से कृषि पंप को चलाना काफी आसान है, क्योंकि इसमें बहुत ही कम उपकरण लगे होते हैं. इसके साथ ही पारम्परिक पंप की तरह बिजली कटौती, कम वोल्टेज आदि की परेशानी नहीं होती है. जहां बिजली की आपूर्ति नहीं हो पाती है, वहां भी सौर ऊर्जा कृषि पंप बहुत कारगर साबित होते हैं. 5. पर्याप्त उत्पादकता:- 👉🏻अधिक गर्मी में पानी की ज्यादा जरूरत होती है, ऐसे समय सोलर पैनल भी अधिक चार्ज होता है। इसके साथ ही बरसात और ठंढ में सोलर एनर्जी कम बनता है, तो आप पानी को स्टोर कर रख सकते हैं। अगर आप स्टोरेज टैंक का आकार बड़ा रखते हैं, तो कभी मायूस होने की जरूरत नहीं पड़ेगी। 6. आर्थिक रूप से लाभकारी:- 👉🏻इसके इस्तेमाल में कुछ खास खर्च नहीं होता है, साथ ही रखरखाव में भी खर्च नहीं करना पड़ता है। ऐसे में किसान अपने उपयोग के बाद बचे हुए सौर ऊर्जा को ग्रिड में बेच सकते हैं। एक तरफ यह लागत के हिसाब से किफायती है, तो वहीं दूसरी तरफ यह कई लाभ पहुंचाता है। 7. स्थापना और स्थानांतरण आसान:- 👉🏻इसे लगाने के लिए किसी भी बाहरी लोगों की मदद की जरूरत नहीं पड़ती है। अगर आप इसे मौसम या अपनी जरूरतों को देखते हुए स्थानांतरित करना चाहते हैं, तो बहुत ही आसानी से कर सकते हैं। अगर आप पंप को एक जगह से दूसरी जगह ले जाना चाहते हैं, तो इसके लिए सौर ऊर्जा कृषि पंप सही होता है। 👉🏻इस तरह सौर ऊर्जा कृषि पंप कई तरह से किसानों के लिए फायदेमंद है। खासतौर पर इसका उपयोग खेती के लिए बहुत अच्छा है। जब से सिंचाई लागत कम हुई है, तब से कृषि धीरे-धीरे छोटे-मंझोले किसानों के लिए अधिक मुनाफा दे रही है। 👉🏻खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 क्लिक करें। स्रोत:- Krishi Jagran, 👉🏻प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍🏻 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
29
3
संबंधित लेख