एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
जानिए, गेहूँ में सिंचाई की क्रांतिक अवस्थाएँ!
● पहली सिंचाई शीर्ष जड प्रवर्तन अवस्था (CRI) पर अर्थात् बुआई के 20 दिन बाद सिंचाई करना चाहिए। ● दूसरी सिंचाई दोजियां निकलने की अवस्था अर्थात बोआई के लगभग 40 से 45 दिन बाद। ● तीसरी सिंचाई गाँठ बनने की अवस्था अर्थात् बोआई के लगभग 60 से 65 दिन बाद। ● चौथी सिंचाई फूल आने के पूर्व की अवस्था अर्थात् बोआई के 80 से 85 दिन बाद। ● पांचवी सिंचाई दूध बनने तथा शिथिल अवस्था अर्थात् बोने के 100 से 105 दिन बाद। ● पर्याप्त सिंचाईयां उपलब्ध होने पर बौने गेहूं में 4 से 6 सिंचाई देना श्रेयस्कर होता है ।
5
2
अन्य लेख