कृषि वार्ताकृषि जागरण
जानिए, किस योजना के तहत केंद्र सरकार ने दी 3,971 करोड़ रूपए के लोन को मंजूरी!
👉🏻 केंद्र सरकार के कृषि मंत्रालय ने सूक्ष्म सिंचाई परियोजनाओं के लिए 3971 करोड़ रुपए की मंजूरी राज्यों को दी है। जिसमें तमिलनाडु राज्य को राशि का सबसे बड़ा हिस्सा मिला है। केन्द्रीय कृषि मंत्रालय ने बताया कि 3,971 करोड़ रुपए के ऋण को मंजूरी दी गई है ताकि सूक्ष्म सिंचाई परियोजनाओं को अधिक बढ़ावा दिया जा सके। इस योजना को लागू करने के लिए जिस सब्सिडी का प्रावधान किया गया है। सूक्ष्म सिंचाई परियोजनाओं को लागू करने के लिए राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (NABARD) अहम भूमिका निभाता है। सूक्ष्म सिंचाई कोष की संचालन समिति ने 3,971.31 करोड़ रुपए के ऋण के लिए परियोजनाओं को मंजूरी दे दी है। इस योजना के अन्तर्गत बनाए गए सूक्ष्म सिंचाई कोष (MIF) के तहत राज्यों को ब्याज छूट के साथ कर्ज दिया जा रहा है। क्या है सूक्ष्म सिंचाई परियोजना? 👉🏻 यह प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का ही घटक रूप है। इसके अन्तर्गत ड्रिप सिंचाई पद्द्ति, फंवारा पद्द्ति पर कुल लागत में से 40% हिस्सा केंद्र सरकार, 10% हिस्सा राज्य सरकार और शेष 50% हिस्सा लाभार्थी द्वारा वहन किया जाता है। सूक्ष्म सिंचाई परियोजना की अधिक जानकारी कहां से लें? 👉🏻 अधिक जानकारी के लिए http://pmksy.gov.in/ वेबसाइट देख सकते हैं या जिले के कृषि विभाग में सम्पर्क किया जा सकता है। स्रोत:- कृषि जागरण, 27 Nov 2020, 👉🏻 प्रिय किसान भाइयों यदि आपको दी गयी जानकारी उपयोगी लगी तो इसे लाइक👍करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद।
25
2
अन्य लेख