जानिए, कपास की फसल में अंतर-फसल (इंटर क्रॉपिंग) का महत्त्व!
एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
जानिए, कपास की फसल में अंतर-फसल (इंटर क्रॉपिंग) का महत्त्व!
👉🏻 किसान भाइयों ज्यादातर किसान भाई कपास की एक ही फसल लगाते है। जिससे कपास के बीच का स्थान खाली रहता है। और उस स्थान पर खरपतवार उग आते हैं जो मुख्य फसल की बढ़वार प्रभावित करते हैं। इसी खली स्थान पर अगर आप कम समय में तैयार होने वाली फसल जो उथली जड़ वाली फसल लगते हैं। तो वह डबल मुनाफा प्राप्त कर सकते है। जैसे मूंग उड़द या लोबिया आदि। इसका एक फायदा यह भी है की उस खाली पड़ी जगह के बीच में कोई खरपतवार भी नहीं उग पायेगा जिससे मुख्य फसल की वृद्धि अच्छी हो सकेगी। 👉🏻 इस उत्पाद की खरीदी के लिए इस लिंक पर ulink://android.agrostar.in/productlist?sku_list=AGS-S-2826,AGS-S-027,AGS-S-202,AGS-S-2215,AGS-S-1764,AGS-S-2252,AGS-S-2251&pageName= क्लिक करें। 👉🏻 खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 क्लिक करें। स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, 👉🏻 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍🏻 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
5
1
अन्य लेख