क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
जंग रोग से अंजीर का संरक्षण करें
जब तापमान कम होता है और आर्द्रता अधिक होती है उस समय जंग रोग का संक्रमण बढ़ता है। सेरोटेलियम फिकी कवक के कारण यह रोग होता है। इस कवक के संक्रमण के कारण, फलों में काले रंग के धब्बे हो जाते हैं। फल अच्छी तरह से परिपक्व नहीं होते हैं। वे जल्दी सड़े जाते हैं। इसलिए, हमें इस चरण में इस रोग को नियंत्रित करने की आवश्कता है। लक्षण: फल पर कई काले धब्बे दिखाई देते हैं। ऐसे फल अच्छी तरह से परिपक्व नहीं होते हैं। वे कठोर हो जाते हैं और वे परिपक्व होते ही सड़ जाते है। यदि संक्रमण अधिक होता है, तो पेड़ की पत्तियां पीली होकर गिर जाती हैं। गंभीर रूप से संक्रमित बगीचे में, केवल फल और शाखाएं रह जाती हैं। नतीजतन, ऐसे बागों में फलों की वृद्धि स्थिर हो जाती है। सूरज की गर्मी के कारण फलों में घाव दिखाई देते हैं।
नियंत्रण १) बाग की छंटाई करें। इससे संक्रमित शाखाओं की संख्या घट जाती है और इन स्थानों पर भरपूर तने निकल आती है। २) बाग को साफ रखें । संक्रमित पत्तियां, फलों और छंटाई की गई संक्रमित शाखाओं को एकत्रित करके बाग के बाहर जला देना चाहिए। ३) नई पत्तियों के उभरने के बाद, छंटाई के लगभग 20 दिन बाद, क्लोरोथैलोनिल 20 ग्राम + कार्बेनडेज़िम 10 ग्राम 10 लीटर पानी में मिलाकर इसे छिड़का जाना चाहिए। विशेषज्ञों की सलाह के अनुसार अगला छिड़काव किया जाना चाहिए। एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस, 14 जून 18
119
5
संबंधित लेख