AgroStar
चना का बीज उपचार का फफूंदी जनित रोगों से निजाज पाएं!
एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
चना का बीज उपचार का फफूंदी जनित रोगों से निजाज पाएं!
चना फसल को उकठा एवं जड़ सड़न रोग से बचाव हेतु बीज को टेबुकोनाजोल 5.4% डब्ल्यू/डब्ल्यू एफएस @ 4 मिली प्रति 10 किलोग्राम बीज की दर से उपचारित करें। इसके बाद अमोनियम मालीब्ड़ेट 1 ग्राम प्रति किलोग्राम बीज की दर से उपचारित करें। इसके उपरान्त राइजोवियम एवं पीएसबी कल्चर प्रत्येक की 5 ग्राम मात्रा प्रति किलोग्राम बीज की दर से उपचारित करें। इसके लिए 100 ग्राम गुड़ का आधा लीटर पानी में घोल बनायें घोल को गुनगुना गर्म करें तथा ठंडा कर राइजोवियम कल्चर एवं पी एस बी कल्चर मिलाऐं। घोल को बीज के ऊपर समान रूप से छिड़क दें और धीरे-धीरे हाथ से मिलाऐं ताकि बीज के ऊपर कल्चर अच्छे से चिपक जाऐं। उपचारित बीज को कुछ समय के लिए छाँव में सुखाऐं। इसके बाद तुरंत बुआई करें।
यदि आपको आज के सुझाव में दी गई जानकारी उपयोगी लगे, तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद।
21
8
अन्य लेख