बिज़नेस आईडियाTV 9 Hindi
घर बैठे आप भी सोया मिल्क बनकर लाखों कमा सकते है!
सोया मिल्क उत्पादन से कमाई के उपाय 👉🏻सोयाबीन के बारे में आप सब जानते हैं. खाने में इसका खूब उपयोग होता है. इसमें प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाई जाती है, इसलिए लोग इसे चाव से खाना पसंद करते हैं. देश में सोयाबीन की अच्छी खेती होती है और कारोबार भी बढ़िया देखा जाता है. इसकी खेती करने वाले किसान लगभग हमेशा फायदे में रहते हैं क्योंकि मांग के अनुसार आपूर्ति में अंतर देखा जाता है. अभी सोयाबीन की कीमत बाजार में 6800 रुपये प्रति क्विंटल की रेट पर चल रही है. ये तो हुई सोयाबीन की बात. लेकिन क्या आपको पता है कि सोया मिल्क से भी किसान अच्छी कमाई कर सकते हैं. 👉🏻जैसा कि नाम से स्पष्ट है, सोया मिल्क मतलब वह दूध जो सोयाबीन से तैयार होता है. इस दूध की मांग बहुत ज्यादा है और वर्जिश करने वाले लोग इसे खूब इस्तेमाल करते हैं. जिन्हें हाई प्रोटीन डाइट की जरूरत होती है, वे इसका खूब उपयोग करते हैं. यहां भी मांग और सप्लाई में अंतर है. मांग दिनोंदिन बढ़ रही है, लेकिन सप्लाई उस हिसाब का नहीं है. अगर किसान सोया मिल्क बनाने का काम शुरू करें तो भविष्य में अच्छी कमाई पा सकते हैं. इसके लिए कहीं जाने की जरूरत नहीं है. कुछ खास पद्धतियां हैं जिनकी बदौलत सोया मिल्क बनाकर अच्छी कमाई की जा सकती है. कहां होता है व्यावसायिक उत्पादन देश में सोया मिल्क के कई प्लांट हैं जहां इसका व्यावसायिक उत्पादन होता है. भोपाल स्थित केंद्रीय कृषि अभियांत्रिकी संस्थान और दिल्ली में मैसर्स रॉयल प्लांट सर्विसेज ने मिलकर एक सोया मिल्क का ऑटोमेटिक प्लांट तैयार किया है. यह ऐसा प्लांट है जो एक घंटे में 100 लीटर दूध तैयाकर कर सकता है. इस प्लांट में सोया की फली भरने और पिसाई करने वाली यूनिट लगी है. कैसे बनता है दूध कुकर में सोया कच्चे सोया मिल्क को पकाया जाता है. कुकर में 120 डिग्री तक तापमान रखा जाता है. देश के कई हिस्से में सोया मिल्क बनाने का काम हो रहा है. रांची जिले के कामरे में स्थित मैसर्स श्री श्यामा काली एंटरप्राइजेज ने दूध और टोफू के लिए ऑटोमेटिक स्वचालित सोया दूध प्लांट लगाया है. इस प्लांट में हर दूसरे दिन लगभग 70 लीटर सोया दूध का उत्पादन होता है. प्लांट में 10 किलो टोफू भी तैयार होता है. बाजार में एक लीटर सोया दूध की कीमत 40 रुपये, जबकि एक किलो टोफू 150-200 रुपये बिक रहा है. इतनी होती है कमाई सोया दूध की उत्पादन लागत प्रति लीटर 15 रुपये और टोफू की उत्पादन लागत 50 रुपये आती है. इस तरह रांची के श्यामा काली इंटरप्राइजेज को साल भर में 5,91,500 रुपये तक का शुद्ध मुनाफा हो रहा है. इसके अलावा इस प्लांट में कई लोगों को रोजगार भी मिल रहा है. 👉🏻 खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 क्लिक करें। स्रोत:- TV 9 Hindi, 👉🏻 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। यदि दी गई जानकारी आपको उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
6
0
अन्य लेख